Uncategorized

बिना विज्ञापन देखे यूट्यूब पर वी‎डियो नहीं देख पाएंगे, या ‎फिर लेना होगा प्री‎मियम

नई दिल्ली । यूट्यूब ने हाल ही में घोषणा की है, अगर यूजर वी‎डियो देखना चाहते हैं तो उन्हें ‎विज्ञापन भी देखना होगा। य‎दि बगैर ‎विज्ञापन के वी‎डियो देखना है तो यूजर्स को प्री‎मियन सबक्राइब करना होगा। दरअसल यूट्यूब पर विज्ञापन देखना किसी को पसंद नहीं होता है, और यही वजह है कि कुछ लोग ऐड-ब्लॉकर का इस्तेमाल करते हैं। ऐड-ब्लॉकर टूल से वीडियो के बीच मौजूद विज्ञापन नहीं दिखाई देते हैं। लेकिन अब यूट्यूब ने इसपर कड़ी कार्यवाही करने का रुख कर लिया है। कंपनी ने बताया है कि वह इंटरनली एक फीचर की टेस्टिंग कर रही है, जो यूज़र्स को वीडियो ऐप पर ऐड ब्लॉकर का इस्तेमाल करने से रोकेगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक कई यूज़र्स ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म रेडिट पर स्क्रीनशॉट पोस्ट किया है, जिसमें देखा गया है कि उन्हें पॉप-अप के ज़रिए चेतावनी मिली है। स्क्रीनशॉट से मालूम हुआ कि यूट्यूब का कहना है कि अगर यूज़र ने ऐड ब्लॉकर को बंद नहीं किया को तीन वीडियो के बाद उनका प्लेयर ब्लॉक कर दिया जाएगा। चेतावनी में कहा गया है जब तक कि यूज़र्स अपने ऐड ब्लॉकर को डिसेबल नहीं करते हैं, तब तक उनके लिए कंटेंट ब्लॉक कर देगा। यानी कि वह यूट्‎यूब प्लेटफॉर्म पर वीडियो नहीं चला सकेंगे। एक मी‎डिया रिपोर्ट के मुता‎बिक एक यूट्यूब प्रवक्ता ने कहा, ‘हम ग्लोबल लेवल पर एक छोटा सा एक्सपेरिमेंट कर रहे हैं जो विज्ञापन ऐड ब्लॉकर इस्तेमाल करने वाले यूज़र्स से यूट्यूब पर विज्ञापनों की अनुमति देने या यूट्यूब प्रीमियम इस्तेमाल करने का आग्रह करता है। जब‎कि एड ब्लॉकर यूट्यूब के सेवा की शर्तों का उल्लंघन करते हैं। गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब ने कहा कि प्रभावित यूज़र्स को ‘बार-बार नोटिफिकेशन’ मिलेगा जो उन्हें प्लेटफॉर्म पर विज्ञापनों की अनुमति देने के लिए कहेगा। ऐसा देखा गया है कि यूट्यूब पर कुछ समय में विज्ञापन काफी लंबे होने लगे हैं और ज़्यादातर ऐड्स के साथ स्किप बटन भी नहीं दिया जाता है। पहले छोटी वीडियो के साथ भी स्किप का बटन मिल जाता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होता है। यही वजह से है कि यूज़र्स ऐड से परेशान होकर एड ब्लॉकर का इस्तेमाल करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button