World

जब मूर्ति की आंखों से बहने लगा खून, लोगों ने माना दैवीय चमत्कार

चर्च के अधिकारी बोले-ऐसे मुद्दे पर सावधानी बरतने की जरूरत
मेक्सिको सिटी । भारत ही नहीं दुनिया में धार्मिक मूर्तियों को लेकर चमत्कार चर्चा का विषय बन जाते हैं। कभी कोई मूर्ति दूध पीती है, तो कभी किसी मूर्ति से खून बहने लगता है। हाल ही में मैक्सिको में वर्जिन मैरी की मूति की आंखों से खून बहने की खबर ने शहर में सनसनी फैला दी है। कई लोग इसे दैवीय चमत्कार के साथ एक संदेश मान रहे हैं। इस पूरे मामले में चर्च का रवैया भी रोचक है।
चर्च के अधिकारी इस मूर्ति के खून के आंसू रोने की घटना की जांच कर रहे हैं। मूर्ति में मैरी को लेडी ऑफ ग्वाडालूप के रूप में दिखाया गया है, जो उनके पांच दर्शनों में से एक है, जो 1500 के दशक में जुआन डिएगो नामक एक किसान और उसके चाचा जुआन बर्नार्डिनो को दिखाई दिया था।
मेक्सिको के ओब्रेरा शहर के मोरेलिया में एक परिवार ने कैथोलिक अधिकारियों से संपर्क किया जब दो जून को मूर्ति की आंखों से लाल आंसू बहने लगे। मूर्ति का सटीक स्थान अभी तक सार्वजनिक नहीं किया गया है, ऐसा इसमें शामिल परिवार की सुरक्षा के लिए किया गया है। मूर्ति की तस्वीरों में ऐसा लग रहा है कि उसके गालों पर काली धारियां हैं, जैसे कि वह खून के आंसू रो रही हो। इसमें यकीन रखने वालों का मानना है कि यह संकेत एक दिव्य संदेश है, लेकिन अक्सर इसकी व्यापक जांच की जाती है, क्योंकि स्थानीय चर्च अधिकारियों ने अब भक्तों से बहकने से बचने का आग्रह किया है।
आर्च डायोसिस ने एक बयान में कहा कि यह कथित चमत्कार जैसे नाजुक मुद्दे पर विचार करते समय सावधानी बरतने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि इसकी जांच करने के लिए जरूरी उपाय किए जा रहे हैं। इसलिए, इस मामले पर कोई निश्चित स्थिति जारी करना जल्दबाजी होगी लेकिन चर्च ने इसे पारिवारिक प्रार्थना का अवसर जरूर माना और इसके लिए लोगों को आमंत्रित भी किया।

Related Articles