World

खुद का दिल हाथ में लेकर चलती है महिला कभी अलमारी में रखती है

न्यूयार्क । जेसिका मैनिंग अपने दिल को कभी हाथ में लेकर घूमती है तो कभी अलमारी में पैक करके रख देती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि उसे कुदरत ने ऐसा बनाया है कि वो अपने शरीर के अंदरूनी अंगों को अब प्लास्टिक के बैग में पैक करके घर में रखती है। उसकी ज़िंदगी मशीनों पर चल रही है, फिर भी वो लोगों हौसला दे रही है।रिपोर्ट के मुताबिक न्यूज़ीलैंड की रहने वाली जेसिका मैनिंग ने अपने दिल और जिगर के ट्रांसप्लांट की सर्जरी कराई थी। 8 साल पहले उसकी ये ओपन सर्जरी हुई थी क्योंकि वो 6 हार्ट डिफेक्ट्स के साथ पैदा हुई। ट्रांसप्लांट के बाद उसने अपना हार्ट रिसर्च के लिए डोनेट कर दिया था। 10 महीने बाद जब रिसर्च का काम पूरा हो गया तो उसे अपना निकाला हुआ दिल वापस मिल गया।
ऐसे में वो ऑस्ट्रेलिया से वापस अपने घर आना चाहती थी। ऐसे में उसने हैंड लगेज के तौर पर अपना दिल वाला बैग भी ले रखा था। सिक्योरिटी के लोग ये देखकर हैरान रह गए और उन्होंने उसे रोक दिया। हालांकि जब उन्हें यकीन हो गया कि इससे कोई परेशानी नहीं होने वाली है, तो उन्होंने जेसिका का दिल उसे वापस कर दिया। जेसिका बताती है कि उसके दिल और जिगर देखने में आटे के गोले की तरह है, जिसे वो प्लास्टिक बैग में सील करके अपनी अलमारी में रखती हैं। वे अपने टिकटॉक वीडियो के ज़रिये भी इसे दिखाकर ऑर्गन ट्रांसप्लांट के लिए जागरूकता फैलाती हैं। उन्हें लाखों लोग देखते हैं और उनकी हिम्मत की तारीफ करते हैं। जेसिका को जन्मजात तौर पर दिल से जुड़ी बीमारी है और उसका दिल लगभग आधा विकसित था। दिल में छेद और लीक करने वाले वॉल्व्ज़ थे। 3 साल की उम्र तक उसकी दो ओपन हार्ट सर्जरी हो चुकी थी और ऐसा लग रहा था कि वो सिर्फ कुछ साल ही ज़िंदा रह पाएगी। हालांकि अब तक उसकी 200 से ज्यादा सर्जरीज़ हो चुकी हैं, जिनमें 5 ओपन हार्ट सर्जरी भी शामिल है। दो पेसमेकर सर्जरी और एक एमरजेंसी लंग सर्जरी के साथ 25 साल की उम्र तक उसका हार्ट और लिवर ट्रांसप्लांट हो चुका था।

Related Articles