Featured

सनातन और संस्कृति पर जब भी आंच आएगी दिग्गी सामने होगे : नरोत्तम मिश्रा

भोपाल। बीजेपी के नवीन मीडिया सेंटर बंसल वन में आज नरोत्तम मिश्रा के द्वारा प्रेस वार्ता की गई जिसमे नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पीएफआई हमास तो बहाना है, पीएफआई हमास दिग्विजय सिंह के खास। यह क्यों देगे देश का साथ, कांग्रेस का काम आतंकियों को बचाना है।

दिग्गी के अपनो पर चोट होती है लेकिन इजराइल ने किया हमला किया तो सब की आवाज आ गई।कांग्रेस को स्पष्ट करना चाहिए कि दिग्गी के बयान से पार्टी सहमत है या नहीं। 

दिग्विजयसिंह के अपनों पर चोट होती है तो तिलमिला जाते है। इजरायल पर एक भी शब्द नहीं फूटा। इस पर खड़गे जी को भी सफाई देने चाहिए दिग्विजय सिंह जैसे लोग बंटा ढार करके ही मानेंगे । कमलनाथ क्यों चुप हैं कांग्रेस को निंदा प्रताव रखना चाहिए। आगे श्री मिश्र ने कहा कि सनातन और संस्कृति पर जब भी आंच आएगी दिग्गी सामने होगे। आतंकवाद और आतंकियों के बाप है । दूसरे धर्म पर कभी आरोप उठाते नहीं देख होगा। जिस तरह बकरी अपनी लेंडी पर बैठ जाती है। दिग्गी ओसामा को ओसामाजी बोलते हैंऔर जाकिर नाइक को शांति दूत कहते है। भोपाल जेल से सिम्मी भागे, पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे तो दिग्विजय को काजी सुनाई देने लगे। दिग्विजय सिंह कहते हैं कि नूह जैसा दंगा एमपी में हो सकता है मुस्लिम को डर दिखाओ हिंदुओं को बांट दो।पीएफआई घोषित आतंकवादी संगठन है। कांग्रेस की न्यायालय पर दबाव बनाने की कोशिश है । कांग्रेस की सरकार आयेगी 370 धारा वापस लगा देंगे। जहा कांग्रेस की सरकार है वहीं भारत तेरे टुकड़े होगे के नारे लगते है।किसी भी मुस्लिम कंट्री ने हमास का समर्थन नही किया लेकिन कांग्रेस ने किया। दिग्विजय सिंह सिमी की तुलना बजरंग दल से करते। जिनके शासन काल में सिमी का आतंक चरम पर था। अब किसी आतंकवादि की हिम्मत नहीं कि एमपी में जिंदाबाद या मुर्दाबाद का नारा लगाए। 

Related Articles

Back to top button