Featured

10वी के छात्र की हत्या करने वाले तीनो आरोपी गिरफ्तार

तीन नाबालिग सहित छह आरोपी थे हत्याकांड में शामिल

भोपाल । राजधानी के थाना बागसेवनिया इलाके में शनिवार देर रात को रास्ते से निकलने के मामूली विवाद में 10 वी कक्षा के छात्र की हत्या करने वाले तीनो फरार आरोपियो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। थाना पुलिस के अनुसार बाग सेवनिया के अमराई पार्क के पास रहने वाला 17 वर्षीय शुभम रजक 10वीं कक्षा का छात्र था। उसके पिता कैलाश रजक बरकत उल्ला यूनिवर्सिटी में प्यून की नौकरी करते हैं। शुक्रवार रात करीब साढ़े 10 बजे वो मोहल्ले में ही रहने वाले 22 वर्षीय आदित्य कुमार पुत्र संगीत संजर और उसके भाई वैभव (18) सहित अन्य दोस्तो के साथ खाना खाकर वापस लौट रहा था। अमराई क्षेत्र में स्थित धनवंतरी कॉलोनी के पास से गुजरते समय वहॉ पहले से बैठे आरोपी अरूण, जम्बू, और उनके साथी ने उन्हें देखते ही रास्ता रोक लिया। इसके बाद चारों ने आदित्य, वैभव और सुभम से तेज आवाज में कहा कि इतनी रात को यहां से क्यो जा रहे हो। इसे लेकर शुभम, वैभव और आदित्य ने उनका विरोध किया। उनके विरोध करनेपर आरोपियो ने उनके साथ गाली-गलौच करनी शुरू कर दी। इसके बाद दोनों पक्षों में बीच विवाद बढ़ गया और मारपीट शुरु हो गई। झगड़े के बीच ही आरोपियो ने तीनो पर चाकू से वार कर दिया। हमले में शुभम के पेट, और आदित्य व उसके भाई वैभव के पीठ व गाल में गंभीर चोट आई थी। बाद में तीनों घायलो को इलाज के लिये एंबुलेंस की मदद से एम्स हॉस्पिटल पहुंचाया गया। अस्पताल में रात करीब तीन बजे शुभम ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। पुलिस ने फरियादी आदित्य कुमार की शिकायत पर आरोपियो के खिलाफ हत्या के प्रयास सहित अन्य धाराओ में मामला दर्ज किया था। बाद में छात्र शुभम की मौत के बाद पुलिस ने मर्ग कायम कर प्रकरण में हत्या की धारा बढ़ा दी। आरोपियो की धरपकड़ के प्रयास में जुटी पुलिस टीम ने वारदात में शामिल तीन नाबालिगो को चंद घंटो मे ही हिरासत में ले लिया था। वहीं तीन आरोपी घटना के बाद से ही फरार चल रहे थे। मंगलवार को पुलिस को फरार आरोपियो के जेल पहाड़ी क्षेत्र में छुपे होने की जानकारी मिली। टीम ने तत्काल ही घेराबंदी कर तीनो आरोपियो जमीर पिता अब्दुल लतीफ (24), अरुण नायक पिता अरविंद नायक (19) और रोहित उर्फ भैय्यू पिता राजेश (18 ) तीनो निवासी संजय नगर अमराई थाना बागसेवनिया को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपियो ने बताया कि पुरानी रजिशं को लेकर आमना सामना होने से उनके बीच विवाद हो गया था। झगड़ा बढ़ने पर आरोपी समीर ने कमर ने अपने पास रखा चाकू निकलकर आदित्य, वैभव व मृतक शुभम पर हमला कर दिया। इसके साथ ही आरोपी अरुण और एक नाबालिग ने उनका पीछा कर दोबारा उन पर हमला किया उकने भाग जाने के बाद वो सभी मौके पर खड़ी उनकी एक्टिवा गाड़ी की तोड़फोड़ कर फरार हो गये थे।

Related Articles

Back to top button