Madhya Pradesh

1 से 15 अगस्त तक संचालित किया जाएगा अभिमन्यु अभियान का दूसरा चरण

मैराथन दौड़, लघु फिल्मों का प्रदर्शन, स्लोगन, प्रश्नावली, वाद-विवाद प्रतियोगिता एवं नुक्कड़ नाटक सहित होंगे विभिन्न आयोजन

आओ लड़कों को सिखाएं” है विशेष जागरूकता अभियान “अभिमन्यु” की थीम

भोपाल । बाल्यकाल से ही पुरुषों में लैंगिक समानता और महिलाओं के प्रति विशेष सम्मान की भावना जाग्रत कर उन्हें महिला अपराधों के प्रति संवेदनशील बनाने के उद्देश्य से मध्यप्रदेश पुलिस द्वारा अभिमन्यु अभियान का संचालन किया जा रहा है। भविष्य के कर्णधारों को जागरूक करने के लिए चलाए जा रहे इस अभियान का दूसरा चरण 1 अगस्त से प्रारंभ किया जा रहा है। 15 अगस्त 2023 तक संचालित होने वाले अभियान के तहत सभी जिलों में मैराथन दौड़ का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान अधिक से अधिक पुरुष वर्ग को सम्मिलित किया जाएगा और उन्हें अभिमन्यु के पोस्टर सहित “मैं हूं अभिमन्यु” लिखी टीशर्ट वितरित की जाएगी। अभियान के दौरान प्रदेश के सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों के साथ समस्त वरिष्ठ अधिकारियों, अधीनस्थ स्टाफ, महिलाओं व बच्चों के हित में कार्य करने वाले एनजीओ तथा अन्य सहयोगी शासकीय विभागों के प्रभारियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं।

*पोस्टर पुस्तिका के माध्यम से किया जा रहा जागरूक*:-

विगत दिनों भोपाल के लाल परेड मैदान स्थित मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कम्युनिटी पुलिसिंग के अंतर्गत बालकों एवं पुरुषों को महिला संबंधी अपराधों एवं लैंगिक समानता के प्रति जागरूक करने के लिए चलाए जा रहे विशेष जागरुकता अभियान “अभिमन्यु” के लिए महिला सुरक्षा शाखा द्वारा तैयार की गई पोस्टर पुस्तिका का विमोचन किया। इस पुस्तिका में प्रकाशित पोस्टरों के माध्यम से समाज में व्याप्त कुरीतियों और रुढ़ियों को समाप्त करने के लिए आमजन को जागरूक करने का प्रयास किया जाएगा।

*लैंगिक समानता व संस्कारों का दिया जाएगा ज्ञान*

मध्यप्रदेश पुलिस द्वारा महिला एवं बाल अपराधों की रोकथाम और उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए (विशेषकर पुरुषों को जागरूक करने के लिए) चलाए गए विशेष जागरुकता अभियान “अभिमन्यु” की थीम “आओ लड़कों को सिखाएं” है। इसके द्वारा बालकों व पुरुषों को लैंगिक समानता एवं संस्कारों का ज्ञान देने के साथ ही महिलाओं के प्रति संवेदनशील बनाने की पहल की गई है। अभियान के द्वितीय चरण के दौरान महिला सुरक्षा शाखा, पुलिस मुख्यालय द्वारा अभिमन्यु अभियान के संबंध में तैयार किए गए पोस्टर्स, पोस्टर्स पुस्तिका, नुक्कड़ नाटक की स्क्रिप्ट, प्रश्नावली एवं जागरुकता के लिए लघु फिल्म की सॉफ्टकॉपी उपलब्ध करवाई जाएगी। इस अभियान के दौरान समय-समय पर बालकों के क्रियाकलापों का आकलन किया जाएगा, साथ ही शिक्षा के माध्यम से विभिन्न अपराधों की जानकारी देकर उनके दुष्परिणामों से भी अवगत कराया जाएगा।
*जानेंगे पुलिस के प्रति जनता की सोच*:-

अभिमन्यु अभियान के द्वितीय चरण के दौरान स्कूल, कॉलेज व सार्वजनिक स्थानों पर वाद-विवाद प्रतियोगिता, संगोष्ठी, नुक्कड़ नाटक, स्लोगन, प्रश्नावली हल करवाना, समूह चर्चा, लघु फिल्मों का प्रदर्शन एवं | मैराथन दौड़ का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान जिले के प्रमुख स्थानों जैसे- रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, पर्यटन स्थलों, तहसील कार्यालयों, कलेक्टर कार्यालय, शॉपिंग मॉल आदि स्थानों पर अभिमन्यु के शुभंकर के कट-आउट का सेल्फी प्वाइंट बनाया जाएगा व विभिन्न प्रतिभागियों को अभिमन्यु बैज व अभिमन्यु स्टीकर प्रदान किए जाएंगे। जागरुकता कार्यक्रम के दौरान पुलिस के प्रति बालक-बालिकाओं व आमजन की सोच के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए पुलिस मुख्यालय द्वारा तैयार प्रभावली स्कूल-कॉलेजों एवं सार्वजनिक स्थानों पर वितरित कर हल करवाई जाएगी।

*इस तरह किया जाएगा प्रचार-प्रसार*:-

म.प्र. शासन के विभिन्न विभागों के सहयोग व समन्वय से पोस्टर, लघु फिल्म, विभिन्न प्रतियोगिताओं, दूरदर्शन, आकाशवाणी, एफ. एम. रेडियो, सोशल मीडिया इत्यादि के माध्यम से शहरी और ग्रामीण रहवासी क्षेत्र के स्कूलों-कॉलेजों के छात्रों व शिक्षकों, झुग्गी बस्तियों, मजदूर वर्ग तथा शासकीय व अशासकीय संस्थाओं के मध्य अभिमन्यु अभियान का प्रचार-प्रसार किया जाएगा। इस दौरान जिलों के सोशल मीडिया एवं समाचार पत्रों में लगातार अभियान की विभिन्न गतिविधियों एवं लोगों द्वारा ली गई विभिन्न सेल्फी का प्रकाशन भी किया जाएगा। साथ ही ट्विटर हैंडल, व्हाटसअप ग्रुप आदि पर लघु फिल्म एवं पोस्टरों के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जाएगा।

*15 अगस्त को करेंगे इनका सम्मान*

अभिमन्यु अभियान के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं, महिला अपराध को रोकने में अहम भूमिका निभाने वालों, पुरुषों द्वारा किए जाने वाले कार्यक्षेत्र में अपनी पहचान बनाने वाली महिलाओं तथा महिला उत्थान के क्षेत्र में कार्य कर रहे पुरुषों का 15 अगस्त को सम्मान किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि अभिमन्यु अभियान को स्कूल एवं शिक्षा विभाग, खेल एवं युवा कल्याण विभाग, संस्कृति विभाग, पर्यटन विभाग, ग्रामीण एवं पंचायत विभाग, परिवहन विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, नगरीय प्रशासन विभाग तथा विभिन्न एनजीओ के समन्वय से संचालित किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button