State

इंशाल्लाह, गुस्ताखी जैसै शब्द इस्तेमाल कर ट्रेनो में बम ब्लास्ट की धमकी देने वाला गिरफ्तार

पटवारी, पुलिस कांस्टेबल, जेल प्रहरी की परीक्षा में फेल हो चुका है आरोपी, फेसम होने के लिये दी थी धमकी
भोपाल । राजधानी भोपाल की थाना क्राइम ब्रांच टीम ने एमपी की 3 ट्रेनो को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले आरोपी को चंद घंटो में ही गिरफ्तार कर सलाखो के पीछे पहुंचा दिया है। पूछताछ में सामने आया कि आरोपी ने फेमस होने के लिये अपने रिशते के भाई के मोबाइल से फोन कर धमकी दी थी। क्राइम ब्रांच डीएसपी शैलेन्द्र सिंह चौहान ने जानकारी देते हुए बताया की अज्ञात आरोपी द्वारा एक मीडीया हाउस के आफिस के मोबाईल नंबर पर मैसेज कर एमपी मे तीन ट्रेनो मे ब्लास्ट करने की धमकी दी गई थी। आरोपी द्वारा पहले दो-तीन बार फोन किया और उसके बाद फोन पर सही से बात नही होने के कारण आफिस के मोबाईल नंबर पर मैसेज कर कहा गया की हमे तेरी आवाज नही अ रही, हमारी बात को नजर अंदाज करने की गुस्तखी न करे। आज एमपी में तीन ट्रेन में ब्लास्ट होगा जल्द ही अभी ट्रेन एमपी से बाहर है, इंशाअल्लाह तुम हमारी बातो को नजर अंदाज नही करोगे। हमें 15 मिनट में तुम्हारे अधिकारियों से मोहब्बत की बाते करनी है। अज्ञात आरोपी ने अपनी पहचान छुपाकर आफिस के नम्बर पर मैसेज किए। मीडीया हाउस के कर्मचारी द्वारा घटना की लिखित शिकायत थाना क्राईम ब्रांच मे की गई। मामले को गंभीरता से लेते हूये एफआईआर दर्ज कर धमकी देने वाले अज्ञात आरोपी का सुराग जुटाने के लिये टीमो को भिड़ाया गया था।
टीम ऐसे पहुंची आरोपी तक
टेक्निकल टीम ने धमकी के लिये उपयोग किये गये मोबाईल नबंर की जानकारी निकालते हुए सिम कैफ धारक शुभम पिता जगदीश निवासी ग्राम तलेन जिला राजगढ की खोजबीन करते हुए उसे चुनाभट्टी  स्थित झुग्गी के पास से हिरासत में लिया गया। लेकिन उसके पास अन्य मोबाइल नंबर मिला। पुलिस ने जब शुभम से पूछताछ की तब उसने बताया कि उसका मोबाईल और सिम कार्ड उसके मौसी के लडके आनंद बिलवान पिता मुकेश बिलवान (23) निवासी कालापीपल शाजापुर के पास है। जो अभी भोपाल मे ही है, उसकी निशानदेही पर पुलिस ने आनंद बिलवान को कोलार चौराहे गेस्ट हाउस के पास से हिरासत में ले लिया। जब आनंद से ट्रैनो को बम से उड़ाने की धमकी देने के बारे में पूछताछ की गई तब उसने स्वीकार किया की धमकी उसी ने दी थी। टीम ने उसके पास से धमकी देने में इस्तेमाल किये गये दो मोबाईल व तीन सिम कार्ड जप्त किये है
कई परीक्षाओ में फेल होने के बाद फेमस होने की लिये दी थी धमकी
अधिकारियो ने बताया कि आरोपी आनंद बिलवान बीए तक पढ़ा है, और पटवारी, पुलिस कांस्टेबल सहित जेल प्रहरी की परीक्षा में कई बार फैल होन के बाद निजी माइक्रो फायनेंस कंपनी में जॉब करता था। आनंद को कम समय में अधिक पैसा कमाने की लालच के साथ ही फेमस होने की धुन सवार रहती थी, इसके लिये वह नये-नये तरीके खोजता रहता था। इसी के चलते उसने सोचा की ट्रेन को बम से उड़ाने की झूठी खबर फैलाकर वह फेमस हो जायेगा। अपनी प्लानिंग को अमली जामा पहनाने के लिये उसने अपने मौसी के लडके का मोबाईल लेकर उसके नम्बर से व्हाट्सएप इंस्टॉल किया ओर ट्रेनो को बम से उड़ाने की झूठी धमकी दे डाली। 

Related Articles