State

पमरे ने दो माह में 09 स्टेशनों पर इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग कमीशन किया


भोपाल, । भारतीय रेल के पश्चिम मध्य रेल द्वारा रेल संचालन में सुरक्षा और सुगमता में बढ़ोतरी के लिए इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग (Electronic Interlocking) प्रणाली का उपयोग तीव्र गति से बढ़ाया जा रहा है। पश्चिम मध्य रेल के महाप्रबंधक एवं प्रमुख संकेत एवं दूरसंचार इंजीनियर के मार्गदर्शन में, इस समयानुसार नए और पुराने सिग्नलिंग सिस्टम को अपग्रेड किया जा रहा है।

इन अपग्रेडेशन के अंतर्गत, वर्ष 2023-24 में तीन मण्डलों के 23 स्टेशनों पर नए इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग को कमीशन किया गया है। इसके अलावा, अप्रैल और मई महीने में 09 अतिरिक्त स्टेशनों पर भी इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग कमीशन किया गया है। यह स्टेशन शामिल हैं जबलपुर मण्डल के छतैनी, ब्यौहारी, न्यू मझगवाँ फाटक, हरदुआ, गणेशगंज, असलाना और भोपाल मण्डल के धरमकुंडी और दुलरिया, साथ ही कोटा मण्डल के फतेह सिंहपुरा स्टेशन। इन स्थापनाओं से सुरक्षित रेल संचालन और यात्रियों की सुरक्षा में महत्वपूर्ण सुधार हुआ है।

इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग की इस प्रणाली में कम स्थान की आवश्यकता होती है और यह अधिक सुरक्षित और विश्वसनीय होती है। इससे रेल संचालन में सुरक्षा, सुगमता और परिचालन की स्थिरता में महत्वपूर्ण बढ़ोतरी होती है।

Related Articles