State

भोपाल में एम्स की सेवाओं में कमी, मरीजों को हो रही परेशानी

भोपाल:  एम्स भोपाल में मरीजों को वह सेवाएं नहीं मिल पा रही हैं जिसकी प्रदेश की जनता को उम्मीद थी। इसका मुख्य कारण यहां का मैनेजमेंट है। हालांकि, डॉक्टर और एम्स के अन्य कर्मचारी नियमित रूप से अपनी सेवाएं दे रहे हैं, लेकिन मैनेजमेंट की उदासीनता के कारण मरीजों को उचित देखभाल नहीं मिल रही है।

एम्स भोपाल, जो कि मध्य प्रदेश के प्रमुख स्वास्थ्य संस्थानों में से एक है, अब उस स्तर की सेवा प्रदान नहीं कर पा रहा है जिसकी उम्मीद प्रदेश की जनता को थी। यहां के प्रबंधन की व्यवस्थाओं में कमी के कारण, मरीजों को उचित उपचार और सुविधाएं प्राप्त नहीं हो रही हैं। डॉक्टर और कर्मचारी नियमित रूप से अपनी सेवाएं दे रहे हैं, लेकिन प्रबंधन और संचालक द्वारा मरीजों की व्यवस्थाओं के प्रति गंभीरता का अभाव दिखाई दे रहा है।

इसका एक उदाहरण है अशोकनगर के निवासी देवेंद्र यादव का मामला, जो कि एक दुर्घटना के बाद एम्स में भर्ती हुए थे। 6 फरवरी को उनका बाइक से एक्सीडेंट हुआ था, जिसमें उनके हाथ और पैर में चोटें आई थीं, जिनमें से पैर में गंभीर चोट थी। चार महीने से अधिक समय होने के बाद भी उनका ऑपरेशन नहीं हुआ है और वे अभी भी एम्स में उपचार करवा रहे हैं।
मरीज के द्वारा बताया गया कि जांघ की हड्डी में 3 इंच का गैप है। उसके बाद भी ना कोई ऑपरेशन और नहीं कोई इलाज । अब मरीज देवेंद्र यादव की छुट्टी करने की तैयारी में है। अब मरीज कहां जाए कैसे कराए अपना इलाज।

Related Articles