Featured

4 वर्ष पूर्व हुए हत्या के मामले को सुलझाया

लगभग 4 साल बाद मिला युवती का नर कंकाल

-मामले में कथित आरोपी पर अपनी ख़ास मित्र का गला घोट कर हत्या का लगा आरोप

-ग्राम लेंमरू श्यांग जंगल के खाई में मिला नर कंकाल

कोरबा । कोरबा जिले के ग्राम लेंमरू श्यांग में निवासरत लड़की के द्वारा 11.01.2021 एक लिखित आवेदन दिया गया जिसमे कहा गया की उसकी छोटी बहन 10.10.2020 को कोरबा काम करने जाने के नाम से घर से निकली है, जो आज दिनांक तक घर वापस नहीं आई है।

सूचक की रिपोर्ट पर थाना लेंमरू में 11.01.2021 को गुम इंसान क्र. 01/2021 कायम कर जांच कार्यवाही में लिया गया। पुलिस के द्वारा इसमें जांच की जा रही थी। कोरबा जिला पुलिस अधीक्षक जितेंद्र शुक्ला के द्वारा सभी थाना/चौकी की बैठक लेकर गंभीर अपराध, गुम इंसान पर विशेष ध्यान देने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया था जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा एवं तीनों अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारियों के मार्गदर्शन में सभी थाना प्रभारी इस पर कार्य कर रहे थे।

कोरबा जिला पुलिस अधीक्षक के द्वारा उप पुलिस अधीक्षक बेनेडिक्ट मिंज, नगर पुलिस अधीक्षक दर्री रॉबिंसन गुड़िया के मार्गदर्शन में एक विशेष दल बनाया गया जिसमें थाना प्रभारी लेंमरू जितेंद्र यादव और उनके कर्मचारी तथा साइबर सेल प्रभारी अजय सोनवानी और उनके कर्मचारी को थाना लेंमरू के गुम इंसान के काम करने के लिए लगाया गया था, जिसमें टीम के द्वारा गुम इंसान के सभी पहलुओं को बारीकी से अध्ययन किया गया समस्त गवाहों से पूछताछ की गयी। पूछताछ में एक नई बात बाहर आई कि गुमशुदा लड़की गुमशुदगी के समय दो माह की गर्भवती थी, उसका ख़ास मित्र गर्भचेक कराने के लिये लेकर गया था एवं प्रेग्नेंसी चेक करने पर गर्भवती होना पता चलने पर ख़ास मित्र ने गर्भपात कराने की दवा भी ली थी। इस बात की जानकारी होने पर इस तथ्य की तस्दीकी हेतु संबधित लोगो से पूछताछ करने पर उनके द्वारा उक्त बातो की पुष्टि की गयी।

इस आधार पर उसको तलब कर पूछताछ करने पर उसने पहले तो पुलिस टीम को गुमराह करने की कोशीस की, पर बाद में टीम के द्वारा हिकमत अली से पूछताछ करने एवं सभी पहलू को उसके सामने रखने पर उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। आरोपी ने लगभग 04 साल पूर्व गुमशुदगी दिनांक 09-10-2020 को ही रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर उसकी लाश को छिपाने के नियत से घाटी एवं घने जंगलो के खाई में फेंक देने की बात कबूल की।

संदेही के निशादेही पर घटना स्थल टोपरघाट के जंगल लेंमरू श्यांग रोड में गुम इंसान की लाश के अवशेष कपाल (मानव खोपड़ी), एव उसके शरीर की 5 अन्य अस्थियां बरामद हुईं, साथ हीं घटनास्थल पर ही मृतिका के कपड़े बाल पायल वगैरह भी मिला, जिनके आधार पर मृतिका की पहचान की गयी है। आरोपी के मेमोरेंडम के आधार पर उपरोक्त वस्तुएं बरामद कर जप्त किया गया, मामले में थाना लेंमरू मे मर्ग कमांक 01/24 धारा 174 दप्रसं तथा अपराध कमांक 06/24 धारा 302, 201 भादवि कायम कर आरोपी को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में भेजा जा रहा है।

उपरोक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी लेंमरू जितेंद्र यादव, साइबर सेल प्रभारी अजय सोनवानी, प्रधान आरक्षक सुदेश तिर्की, चंद्रशेखर पांडे, गुनाराम सिंहा, आरक्षक प्रशांत सिंह, जितेंद्र जायसवाल, डेमन ओगरे, विपिन नायक, विक्रम नारंग, दिनेश रत्नाकर का सराहनीय योगदान रहा।

Related Articles

Back to top button