Uncategorized

पीएम मोदी का विरोधी दलों पर हमला, कहा इनकी एकता की कोई गांरटी नहीं

राष्ट्रीय सिकल सेल एनीमिया उन्मूलन मिशन शुरु किया
भोपाल । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश के जनजातीय बाहुल्य जिले शहडोल पहुंचे हैं। प्रधानमंत्री मोदी शहडोल में राष्ट्रीय सिकल सेल एनीमिया उन्मूलन मिशन के शुभारंभ के दौरान रानी दुर्गावती को श्रद्धांजलि दी।वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने शहडोल में एराष्ट्रीय सिकल सेल नीमिया उन्मूलन मिशन पोर्टल लांच किया।

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा प्रधानमंत्री बनने के बाद जब मैं जापान की यात्रा पर गया था तब एक जापानी वैज्ञानिक से मिला था, वे वैज्ञानिक सीकलसेन एनीमिया में गहरा रिसर्च कर चुके थे। मैंने जापानी वैज्ञानिक से मदद मांगी। हमारा संकल्प है कि 2047 तक देश सीकलसेल से मुक्त होगा। इससे लड़ने में सबसे जरूरी है जांच कराना। कई बार मरीजों को लंबे समय तक पता नहीं चलता है कि वे इस बीमारी से जूझ रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा मैंने देश के अलग-अलग इलाकों में आदिवासी समाज के बीच एक लंबा समय गुजारा है। सीकलसेल एनीमिया बेहद कष्टदायक है। इनके रोगियों के शरीर, सीने में असहनीय दर्द होता है। यह बीमारी परिवारों को भी बिखेर देती है। यह बीमारी न हवा से, न पानी, न भोजन से फैलत है, यह बीमारी माता-पिता से ही बच्चों में होती है। यह अनुवांशिक बीमारी है। पूरी दुनिया में सीकलसेल एनीमिया के जितने मामले होते हैं उसमें से 50 प्रतिशत सिर्फ हमारे देश में होते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा उनकी (कांग्रेस) गारंटी का मतलब है, कुछ न कुछ गड़बड़ है। आज वे एक साथ आने का दावा कर रहे हैं, सोशल मीडिया पर उनके पुराने बयान वायरल हो रहे हैं। वे हमेशा पानी पीकर एक दूसरे को कोसते रहे हैं, यानि विपक्षी एकजुटता की गारंटी नहीं है। ये परिवारवादी पार्टियां सिर्फ अपने परिवार के भले के लिए काम करती आईं हैं। जिन पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं, वे जमानत पर बाहर घूम रहे हैं। घोटालों के आरोप में सजा काटने वाले एक मंच पर दिख रहे हैं।

वे देशविरोधी तत्वों के साथ बैठक कर रहे हैं।
इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय सिकल सेल एनीमिया उन्मूलन मिशन पोर्टल लांच के दौरान सिकलसेल लाभार्थियों को सिकलसेल काउंसलिंग कार्ड वितरित किया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button