Uncategorized

हिंदू धर्म में ही नहीं वैज्ञानिक तौर पर भी सावन माह का बहुत महत्व

नई दिल्ली । हिंदू धर्म में सावन का महीना बहुत ही शुभ माना गया है। सावन माह में भगवान शिव की पूजा करने का विधान हैं। इस महीने में पूरी श्रद्धाभाव से की गई पूजा से शिव जी जरूर प्रसन्न होते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सावन माह वैज्ञानिक तौर पर भी बहुत अधिक महत्व रखता है। विज्ञान की दृष्टि से देखा जाए तब हमारा पाचन तंत्र सूर्य पर निर्धारित है। इसके बाद सावन के महीने में सूरज बहुत कम निकलता है। इससे हमारा पाचन तंत्र कमजोर होने लगता है। इसकारण जल जनित रोग होने की संभावना भी बढ़ जाती है। ऐसी स्थिति में हमें अपने पाचन तंत्र को आराम देने की जरूरत होती है। इसकारण ही सावन के महीने में बैगन, पत्तेदार साग, सब्जियां, मांसाहारी भोजन और शराब की मनाही होती है ताकि हमारा पाचन तंत्र अच्छा बना रहे। सावन माह में ही जगत के पालनहार भगवान विष्णु योग निद्रा में चले जाते हैं।

इसके बाद सृष्टि का संचालन भगवान शिव द्वारा किया जाता है। साथ ही यह वह महीना भी है जब समुद्र मंथन हुआ था और विषपान करने के कारण शिव जी को नीलकंठ नाम मिला था। सावन के माहीने में ही माता पार्वती ने अपनी कठोर तपस्या से महादेव को प्रसन्न किया था तथा शिव और शक्ति का मिलन आरंभ हुआ था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button