National

‘जो कहा, कर दिखाया…’, तेलंगाना में किसानों की कर्ज माफी पर बोले राहुल …

तेलंगाना की कांग्रेस सरकार ने किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। इस ऐतिहासिक निर्णय के तहत, राज्य सरकार ने 40 लाख से ज्यादा किसान परिवारों को दो लाख रुपये तक के सभी कर्ज़ माफ करने का ऐलान किया है। यह कदम किसानों के लिए बड़ी सौगात है और कांग्रेस की “किसान न्याय” नीति के संकल्प को पूरा करने की दिशा में है।
तेलंगाना में कांग्रेस सरकार ने ऐतिहासिक फैसला लिया है और 40 लाख से अधिक किसान परिवारों को क़र्ज़ मुक्त करने का निर्णय लिया है।  16 साल पहले, कांग्रेस-UPA सरकार ने 3.73 करोड़ किसानों के ₹72,000 करोड़ के कृषि ऋण और ब्याज़ को माफ़ किया था। इसके बाद से, हमने कई कांग्रेस शासित राज्यों में किसानों के क़र्ज़ को माफ़ किया है।

एक ओर मोदी सरकार ने तीन काले क़ानून लागू किए, जिनसे देश के किसानों को कठिनाईयों का सामना करना पड़ा। दूसरी ओर, कांग्रेस ने “किसान न्याय” के तहत सही दाम, क़र्ज़ा माफ़ी आयोग, बीमा भुगतान का सीधा ट्रांसफ़र और सही कृषि आयात-निर्यात नीति की गारंटी दी है। हमारा यह एजेंडा बदलते काल में भी स्थिर रहेगा।
इसके विपरीत, मोदी सरकार ने किसानों पर कई क़ाले क़ानून लागू किए, जिसमें उन्हें कँटीली तारों, ड्रोन से आँसू गैस, रबर बुलेट और लाठी-गोली से भी सताया गया।

कांग्रेस ने अपने एजेंडे के तहत सही दाम, क़र्ज़ा माफ़ी आयोग, बीमा भुगतान का सीधा ट्रांसफ़र, और सही कृषि आयात-निर्यात नीति की गारंटी दी है। यह नीतियाँ किसानों के लिए आर्थिक सुरक्षा और विकास की दिशा में महत्वपूर्ण हैं।

Related Articles