Featured

महिला एवं बाल संरक्षण कार्यक्रम के लिये राष्ट्रीय स्तर पर जुवेनाइल जस्टिस कमेटी द्वारा मध्यप्रदेश पुलिस की सराहना

भोपाल । पुलिस द्वारा संचालित सामुदायिक पुलिस कार्यक्रमों में महिला एवं बाल संरक्षण से जुड़े प्रयोग के लिए मध्य प्रदेश पुलिस की राष्ट्रीय स्तर पर जुवेनाइल जस्टिस कमेटी द्वारा सराहना की गई और बेस्ट प्रैक्टिस के रूप में प्रस्तुति देने का अवसर प्रदान किया गया l 

 महिला एवं बाल सुरक्षा क्षेत्र में भोपाल पुलिस के सामुदायिक पुलिस प्रयासों के सफल संचालन के कारण जिला स्तर पर प्रभावी रूप से संचालित करने के लिए समस्त थाना प्रभारियों की बुधवार को एक कार्यशाला संपन्न हुई। सामुदायिक पुलिस के प्रमुख कार्यक्रम जैसे सृजन जो बालिका आधारित सशक्तिकरण कार्यक्रम हैंl मैं हूँ अभिमन्यु जो किशोर बालको को अच्छा नागरिक बनाए जाने हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रम हैंI सहयोग जो अन्य शासकीय विभागों से पुलिस के गठजोड़ से संबंधित कार्यक्रम हैं l स्टूडेंट इंटर्नशिप कार्यक्रम जो कालेज के छात्रों को इंटर्नशिप प्रदान करने का कार्यक्रम हैं, शक्ति समिति तथा ऊर्जा हेल्प डेस्क जो घरेलू हिंसा पीड़ित महिलाओं के सशक्तिकरण से जुड़ा महिला अपराध में पुलिस की बेहतर कार्यप्रणाली विकसित करने का कार्यक्रम हैं तथा महिला एवं बाल कल्याण से जुड़े अन्य कार्यक्रमों को प्रभावी बनाने के लिए कार्यशाला में आगामी माहों में होने वाली कार्यवाहियों को प्रभावी रूप से क्रियान्वित करने हेतु निर्देश दिए गए I 

 बैठक में पूर्व में योगदान देने वाली प्रशिक्षण टीम तथा जिन थानों में अच्छा काम हुआ है उन थाना प्रभारियों की सराहना की गई, तथा अपेक्षा की गई कि भविष्य में उक्त कार्यक्रम और अच्छे एवं प्रभावी ढंग से संचालित होंगेl

 कार्यशाला में उपस्थित अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अनुराग शर्मा ने कहा कि पुलिस की सकारात्मक छवि निर्मित करने के लिए एवं जनता में पुलिस का विश्वास बढ़ाने के लिए, महिला एवं बाल सुरक्षा तथा अपराधों को रोकने के लिए य़ह एक प्रभावी कदम हैं जिसका प्रभाव समस्त पुलिस कार्यप्रणाली पर सकारात्मक रूप से पड़ रहा है।

Related Articles

Back to top button