Featured

लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने बायो-केमिस्ट्री रीएजेंट्स के लिए फाइल किया पेटेंट,

200 करोड़ के राजस्व का लक्ष्य*

मुंबई । लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज लिमिटेड के ग्लोबल हेल्थकेयर डिवीजन लॉर्ड्समेड ने ट्राइग्लिसराइड्स, यूरिक एसिड, अल्कलाइन फॉस्फेटेज, बिलीरुबिन, कैल्शियम (आर्सेनाजो 3), क्रिएटिनिन, ग्लूकोज, सीरम ग्लूटेमिक ऑक्सालोएसीटिक ट्रांसएमिनेज (एसजीओटी)/एस्पार्टेट एमिनोट्रांस्फेरस, सीरम ग्लूटेमिक पाइरुविक ट्रांसएमिनेज (एसजीपीटी), एलनाइन एमिनोट्रांस्फरेज (एएलटी) और टोटल प्रोटीन के लिए 10 वर्ल्डक्लास रीएजेंट और डायग्नोस्टिक टेस्ट किट का एक सेट लॉन्च किया है. ये रीएजेंट और डायग्नोस्टिक टेस्ट किट 99.7 प्रतिशत सटीक व उच्चतम स्तर पर संवेदनशील हैं तथा 24 महीने की शेल्फ-लाइफ, यूनिक पैकेजिंग और प्रतिस्पर्धी कीमत के साथ आते हैं. कंपनी ने इन किट के लिए भारत में पेटेंट फाइल किया है, जो गंभीर बीमारियों के लिए प्रिवेंटिव हेल्थकेयर मैकेनिज्म को मजबूत करेगा. 

लॉर्ड्समेड इन रीएजेंट और डायग्नोस्टिक परीक्षण किट को महाराष्ट्र स्थित मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी में बनाएगी और 300 से अधिक डीलरों के पैन-इंडिया वितरण नेटवर्क के माध्यम से पैथोलॉजिकल लैब, अस्पतालों और अनुसंधान संस्थानों को उपलब्ध कराएगी. लॉर्ड्समेड अपनी पैथोलॉजिकल लैब चेन में भी किट का इस्तेमाल करेगी. कंपनी की योजना प्रमुख वैश्विक बाजारों में रीएजेंट और किट का निर्यात करने की भी है. लॉर्ड्समेड का लक्ष्य कुछ सालों के भीतर पूरे भारत में और वैश्विक बाजारों में सार्क, अफ्रीका और पूर्वी यूरोप के देशों में इन किटों की आपूर्ति कर 200 करोड़ रुपये का रेवेन्यू जेनरेट करने का है.

लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज लिमिटेड के एमडी एवं सीईओ सच्चिदानंद उपाध्याय ने लॉन्च को लेकर कहा, “क्रोनिक और संक्रामक बीमारियों में तेजी तथा जांच के महत्व व प्रिवेंटिव हेल्थ्केयर के फायदों के प्रति बढ़ती जागरूकता के कारण भारत में किफायती और गुणवत्तायुक्त रीएजेंट और डायग्नोस्टिक किट की मांग लगातार बढ़ रही है. अद्वितीय सटीकता, संवेदनशीलता और शेल्फ लाइफ वाले हमारे रीएजेंट और डायग्नोस्टिक टेस्ट किट गंभीर बीमारियों के लिए प्रीएम्प्टिव डायग्नोस्टिक इंटरवेंशंस फ्रेमवर्क को फिर से परिभाषित करेंगे. भारतीय पेटेंट को विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त है, इसलिए हमने वैश्विक बाजारों में आसानी से स्वीकृति पाने के लिए अपनी किट के लिए भारत में पेटेंट फाइल किया है. अपनी मजबूत विनिर्माण क्षमता और घरेलू व वैश्विक वितरण नेटवर्क के साथ हम विभिन्न क्षेत्रों में गुणवत्तायुक्त डायग्नोस्टिक किट की बढ़ती मांग को पूरा करने की दिशा में काम कर रहे हैं” 

लॉर्ड्समेड की मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी वसई में है. कंपनी उत्तर प्रदेश के लखनऊ और केंद्र शासित प्रदेश दादरा और नगर हवेली के सिलवासा में अपनी दूसरी और तीसरी मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी बनाने के अंतिम चरण में है. ये फैसिलिटी उत्पादन क्षमता और गुणवत्ता मानकों के मामले में एशिया में नए मानक स्थापित करने के लिए तैयार हैं.

लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज ने विश्व स्तरीय पेटेंट उत्पाद विकसित करने के लिए आईआईटी बंबई, भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र (बार्क) और अन्य प्रमुख संस्थानों के साथ तकनीकी गठजोड़ किया है, जो डायग्नोस्टिक उद्योग का स्वरूप बदल देंगे. लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज सिकल सेल, ओरल कैंसर और टीबी जैसी गंभीर बीमारियों के लिए उच्चतम सटीक वाले किफायती गैर-इनवेसिव डायग्नोस्टिक किट विकसित करने की दिशा में काम कर रही है.

Related Articles

Back to top button