Featured

महिला की हत्या के मामले में 49 साल बाद उम्र कैद की सजा

फिरोजाबाद । न्यायालय ने 49 वर्ष पूर्व हत्याकांड की एक दोषी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। उस पर अर्थ दंड भी लगाया है। अर्थ दंड न देने पर उसे अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।नारखी निवासी महेंद्र सिंह पुत्र पन्नालाल उर्फ गोपी चंद ने 14 सितंबर 1974 को राम बेटी की गांव की ही एक महिला कहने पर उसके पति की राइफल से गोली मारकर हत्या कर दी थी। राम बेटी की पुत्री मीरा देवी ने थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। उसे समय नारखी जनपद आगरा का हिस्सा था। अब मुकदमा स्थानांतरित होकर फिरोजाबाद न्यायालय में आया। मुकदमा अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश कोर्ट संख्या 7 जितेंद्र गुप्ता की अदालत में चला। अभियोजन पक्ष की तरफ से मुकदमे की पैरवी कर रहे एडीजीसी नरायन शर्मा ने बताया मुकदमे के दौरान कई गवाहो ने गवाही दी। कई साक्ष्य न्यायालय के सामने प्रस्तुत किए गए। गवाहों की गवाही तथा साक्ष्य के आधार पर न्यायालय ने महेंद्र सिंह को दोषी माना। न्यायालय ने उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई। उस पर 20 हजार रुपये अर्थदंड लगाया।अर्थ दंड न देने पर उसे एक वर्ष की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। इस समय दोषी की उम्र 80 वर्ष है।

Related Articles

Back to top button