Uncategorized

एमपी में शिकारियों ने काटी टाइगर की गर्दन, कोर एरिया में घुसकर मारा, तीन दिन कारण छिपाते रहे अफसर

नर्मदापुरम । टाइगर स्टेट मप्र में एक बार फिर बाघ के शिकार का मामला सामने आया है। शिकारियों ने सतपुड़ा टाइगर रिजर्व (एसटीआर) के कोर एरिया में घुसकर बाघ का शिकार किया। वे बाघ का सिर भी काटकर अपने साथ ले गए। एसटीआर के चूरना रेंज के डबरा देव बीट में 26 जून को बाघ का शव क्षत-विक्षत अवस्था में मिला था। लेकिन उसकी गर्दन मौके पर नहीं मिली। उसकी मौत कैसे हुई? इस वजह को बताने से अफसर तीन दिन तक बचते रहे।

तंत्र-मंत्र की क्रिया के लिए टाइगर की गर्दन काटने की आशंका है। बुधवार रात को एसटीआर के उपसंचालक संदीप फेलोज से मोबाइल कॉल पर संपर्क हो पाया। उप संचालक फेलोज ने बाघ के शिकार होने की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि बाघ का सिर काटा गया है। टाइगर स्ट्राइक फोर्स विवेचना कर रही है। एसटीएफ और एसटीआर की टीम ने कुछ संदिग्धों से पूछताछ भी कर रही है।

टाइगर के शिकार की पुष्टि होने के बाद अब सतपुड़ा टाइगर रिजर्व में सुरक्षा को लेकर बड़े सवाल उठ रहे। आखिर कैसे एसटीआर की सुरक्षा में चूक हुई? कैसे शिकारी एसटीआर के कोर एरिए में घुसकर बाघ का शिकार कर भाग गए? क्या एसटीआर की गश्त टीम रोजाना गश्त नहीं कर रही थी, जो पांचवें दिन बाघ का शव मिल पाया।

5 दिन पुराना मिला शव, विभाग ने फोटो नहीं किए जारी 26 जून सोमवार को चूरना रेंज के डबरादेव बीट में गश्त टीम को बाघ का क्षत-विपक्ष शव मिला था। सूचना मिलते ही एसटीआर के सभी वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे। शव लगभग 5-7 दिन पुराना था। डॉग स्क्वाड की मदद से क्षेत्र की तलाशी की गई, आसपास खोज करने पर मृत्यु संबंधी साक्ष्य नहीं पाए गए।

क्षेत्र संचालक, उप संचालक तथा एनटीसीए के प्रतिनिधि की उपस्थिति में वन्यप्राणी चिकित्सक दल द्वारा बाघ का पोस्टमार्टम एनटीसीए के प्रोटोकोल अनुसार किया गया। बाघ काफी समय से इसी क्षेत्र में अपना इलाका बनाकर रह रहा था।

पोस्टमार्टम के दौरान बाघ के अवयवों को एकत्रित कर लिया गया, जिसके बाद बाघ के शव को जला दिया गया। शिकार हुआ है, एसटीएफ कर रही विवेचना एसटीआर के क्षेत्र संचालक एल कृष्णमूर्ति, उपसंचालक संदीप फेलोज ने बताया मामला बाघ के शिकार का है।

बाघ का सिर कटा है। एसटीएफ ने मौका स्थल का निरीक्षण कर विवेचना शुरू की है। एसटीआर से लगे भातना समेत कुछ गांवों में तलाश जारी है। कुछ संदिग्ध से पूछताछ भी जारी है। लापरवाही किसी के सामने आती है तो कार्रवाई करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button