Featured

ख्यात पत्रकार स्व. बृजभूषण चतुर्वेदी के परिजनों ने एमसीयू में दान की पुस्तकें

ज्ञान का दान सबसे बड़ा दान : कुलपति प्रो. के.जी. सुरेश

भोपाल । माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में सोमवार को इंदौर के ख्यात वरिष्ठ पत्रकार स्व. बृजभूषण चतुर्वेदी जी के पुत्र श्री विराम चतुर्वेदी एवं पुत्री सुश्री विनिता चतुर्वेदी ने विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.(डॉ.)के.जी.सुरेश को स्व. चतुर्वेदी जी द्वारा उनके जीवन भर में संकलित की हुई बहुमूल्य पुस्तकें भेंट की । सिनेमा अध्ययन विभाग द्वारा पुस्तकालय विभाग में आयोजित इस कार्यक्रम में स्व. चतुर्वेदी जी को याद किया गया। कुलपति प्रो.सुरेश ने कहा कि ज्ञान का दान सबसे बड़ा दान है । उन्होंने कहा कि स्व. बृजभूषण चतुर्वेदी के नाम के कारण लोग उन्हें बीबीसी के नाम से भी जानते थे। प्रो. सुरेश ने कहा कि उनका लेखन एवं जुड़ाव लम्बे समय तक फिल्मी पत्रकारिता में रहा है, जिसके कारण उनकी पहचान बीबीसी बन गई । प्रो.सुरेश ने कहा कि वे अपनी संकलित पुस्तकों को विश्वविद्यालय में देना चाहते थे। उन्होंने कहा कि स्व. चतुर्वेदी जी के पुत्र एवं पुत्रियों ने उनकी इस इच्छा को आज पूरा कर दिया । कुलपति प्रो. सुरेश ने भरोसा दिलाते हुए कहा उनकी बहुमूल्य कृतियों को, धरोहर को विश्वविद्यालय हमेशा संजोकर, संभालकर रखेगा । फिल्म पत्रकारिता व साहित्य से जुड़ी पुस्तकें दान स्वरुप प्राप्त होने पर कुलपति प्रो. सुरेश ने कहा कि सिनेमा अध्ययन विभाग इससे अब और समृद्ध होगा । उन्होंने कहा कि स्व. चतुर्वेदी जी की संकलित बहुमूल्य पुस्तकों का लाभ विश्वविद्यालय के विद्यार्थी एवं शोधार्थी उठा सकेंगे । इस अवसर पर प्रो. शिवकुमार विवेक ने कहा कि स्व. बृजभूषण चतुर्वेदी फिल्म पत्रकारिता के अग्रदूत थे। सिनेमा अध्ययन विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. पवित्र श्रीवास्तव ने पुस्तकों को अमूल्य धरोहर बताया । पुस्तकालय विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. आरती सारंग ने पुस्तकें भेंट करने के लिए स्व. बृजभूषण चतुर्वेदी जी के पुत्र श्री विराम चतुर्वेदी एवं पुत्री सुश्री विनिता चतुर्वेदी का आभार व्यक्त किया । विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. अविनाश वाजपेयी ने कार्यक्रम का संचालन किया । इस अवसर पर विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्ष, शिक्षक, अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे । विदित हो कि स्व. बृजभूषण चतुर्वेदी जी का हाल में बीमारी के चलते निधन हुआ है ।

Related Articles

Back to top button