Featured

किन्नरों ने ‎दिया ऑफर, 22 जनवरी को जन्‍मे बच्‍चों का नहीं लेंगे नेंग

बरेली । किन्‍नर समुदाय ने अयोध्या में भव्य मंदिर में श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर नेंग नहीं लेने का ऐलान ‎किया है। बरेली के ‎किन्नर समुदाय ने कहा कि 22 जनवरी को पैदा होने वाले बच्चों के घरों में वे बधाई गाने तो जाएंगे लेकिन नेग नहीं मांगेंगे। इधर हर वर्ष पांच गरीब बच्चों की स्कूल की फीस अदा करने वाली किन्नर शारदा ने बताया कि वह अपने क्षेत्र में यजमानों के घर-घर जाकर पांच-पांच दीपक पहुंचा रहे हैं, ताकि 22 जनवरी को अपने घरों में दीपक जलाएं। उन्होंने कहा ‎कि हम बड़े भाग्यशाली हैं कि अपने जीवन में राम मंदिर के दर्शन करेंगे। उन्होंने कहा ‎कि 22 जनवरी को जिस परिवार में संतान होने पर हम बधाई गाने जाएंगे, वहां नेग नहीं मानेंगे जो मिल जाएगा खुशी-खुशी ले लेंगे और नहीं भी मिला तो आशीर्वाद देकर के लौट आएंगे।

‎किन्नर शारदा ने कहा ‎कि जब प्रभु श्रीराम वनवास जा रहे थे तो अवध के हर नर नारी के साथ-साथ किन्नर भी उनके पीछे-पीछे जाने लगे तो प्रभु के निवेदन पर सभी अयोध्या लौट आये लेकिन किन्नर नहीं लौटे। तमसा नदी के पास 14 वर्ष तक प्रभु राम का गुणगान और उनकी पूजा-अर्चना की। वनवास के बाद जब श्रीराम लौटे तो वह उनके प्रति समर्पण भाव देख प्रसन्न हुए और तभी उन्होंने वरदान दिया कि संतान होने पर किन्नर घर-घर बधाई गाकर बच्चों को आशीर्वाद देंगे तो खुशहाली बनी रहेगी। यही वजह है ‎कि आज हम प्रभु श्रीराम की कृपा से घर-घर जाकर पैदा होने वाले बच्चे को आशीर्वाद देते हैं।

Related Articles

Back to top button