Featured

डीजीपी सुधीर सक्सेना ने भी हाथों में थामी झाड़ू, पुलिस लाइन, बटालियन और डायल 100 में की सफाई

अयोध्या में 22 जनवरी को भगवान श्रीराम के प्राण-प्रतिष्ठा समारोह के तारतम्य में आयोजन

भोपाल ।  मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के निर्देशानुसार प्रदेश के सभी शासकीय कार्यालयों में 16 जनवरी से 21 जनवरी 2024 तक विशेष सफाई अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में डीजीपी सुधीर सक्सेना के निर्देश पर 18 जनवरी को संपूर्ण मध्यप्रदेश के समस्त पुलिस कार्यालयों, आवासीय परिसरों, थानों, चौकियों, पुलिस लाइनों, कंपनी, बटालियनों और पुलिस मुख्यालय की साफ-सफाई की गई। प्रदेश की विभिन्न पुलिस इकाइयों में स्थित मंदिरों में भी विशेष सफाई अभियान चलाया गया।

अभियान में जोनल अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, पुलिस महानिरीक्षक, रेंज उप पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस अधीक्षक, सेनानी, इकाइयों के समस्त राजपत्रित अधिकारी, सभी थानों और चौकियों के प्रभारी शामिल रहे। इस अभियान के दौरान पुलिस के समस्त विभागों और थानों के रिकॉर्ड रूम एवं थानों के मालखानों में शासकीय संपत्ति को व्यवस्थित रूप से संधारित किया। पुलिस मुख्यालय में भी विभिन्न शाखाओं के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा अपने कार्यालयों के रिकॉर्ड रूम की साफ-सफाई की गई।

डीजीपी ने की पुलिस लाइन में सफाई:-

डीजीपी सुधीर सक्सेना ने नेहरू नगर स्थित पुलिस लाइन पहुंचकर परिसर की सफाई में भाग लिया। इस दौरान उनके साथ भोपाल पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्र एवं वरिष्ठ अधिकारी और कर्मचारियों ने भी विशेष सफाई अभियान में हिस्सा लिया। यहां से वे 25वीं बटालियन पहुंचे। यहां उन्होंने कैंटीन और पार्क में सफाई की और परिसर का निरीक्षण किया। बटालियन स्थित स्कूल पहुंचकर उन्होंने बच्चों से बातचीत की और स्वच्छता का संदेश दिया। दिशा लर्निंग सेंटर और चिकित्सालय में सफाई व्यवस्था का अवलोकन किया। डीजीपी ने 23वीं बटालियन में भी सफाई व्यवस्था का जायजा लिया। डीजीपी डायल 100 और टेलीकॉम मुख्यालय भी पहुंचे। इसके बाद डीजीपी पुलिस मुख्यालय पहुंचे और रिकॉर्ड रूम में साफ-सफाई का निरीक्षण किया।

 

इन्हें किया सम्मानित 

डीजीपी सुधीर सक्सेना ने नेहरू नगर स्थित पुलिस लाइन में स्वच्छता मित्र ललिता बाई का भी सम्मान किया। साथ ही सफाई व्यवस्था के प्रभारी सहायक उप निरीक्षक नेमचंद साहू और सबसे स्वच्छ घर के लिए निरीक्षक सुनील दुबे को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया।

पुलिस इकाइयों में की गई कूड़ेदानों की व्यवस्था:

सफाई अभियान के दौरान आवासीय परिसरों, मेस एवं अस्पतालों में भी सफाई की गई। इस दौरान ऐसे स्थान भी चिह्नित किए गए, जहां पर अक्सर अधिक आवागमन अथवा अन्य कारणों से गंदगी रहती हो। इसके अलावा सभी पुलिस इकाइयों में स्थायी और अस्थायी कूड़ेदानों की जगह-जगह व्यवस्था करने और टूटे हुए कूड़ेदानों को हटाने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जा रही है। आवासीय परिसरों में चलाए गए सफाई अभियान में पुलिस परिवार के सदस्यों ने भी हिस्सा लिया। 

स्वच्छता तन और मन दोनों की खुशी के लिए आवश्यक:

डीजीपी सुधीर सक्सेना ने कहा कि स्वच्छता का हमारे जीवन में बहुत महत्व है। माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में पूरे देश में स्वच्छ भारत अभियान चलाया गया। अयोध्या में 22 जनवरी को भगवान श्रीराम के प्राण-प्रतिष्ठा समारोह के तारतम्य में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के निर्देश पर प्रदेश भर में सफाई अभियान चलाया जा रहा है। डीजीपी ने कहा कि साफ-सफाई हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण पहलू है और यह हमारी प्राथमिकता में शामिल होना चाहिए। स्वच्छ परिवेश में कार्य करने से जहां पुलिसकर्मियों में नई ऊर्जा का संचार होता है वहीं आमजन भी थानों में स्वच्छ और सकारात्मक वातावरण में निर्भीक होकर अपनी बात रख पाते हैं।

Related Articles

Back to top button