Featured

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में मादा बाघ शावक की मौत

Bhopal news : उमरिया जिले के विश्वप्रसिद्ध बांधवगढ टाइगर रिजर्व में फिर एक मादा बाघ शावक की मौत हो गई है। घटना पार्क के पनपथा कोर परिक्षेत्र के खुसरिया बीट के जंगल की है। जहां मादा बाघ शावक संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाई गई है। मृत शावक के शव के पास एक अन्य बाघ के पगमार्क पाए गए है, ऐसे में आपसी संघर्ष के बाद मौत की आशंका जताई जा रही है।
मिली जानकारी के अनुसार मानसून गश्ती के दौरान पैदल पेट्रोलिंग टीम ने शव देखकर प्रबंधन को इसकी सूचना दी। जानकारी मिलते ही प्रबंधन ने शव के आसपास की तहकीकात कर एनटीसीए की गाइडलाइन के मुताबिक शव का पोस्टमार्टम कराकर अंतिम संस्कार कराया। हालांकि वन विभाग मादा शावक की मौत का जांच कर रहा है।
-हाथियों की मदद से बाघों के मूवमेंट की निगरानी
बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के क्षेत्र संचालक राजीव मिश्रा ने बताया कि मृत मिली शावक के बारे में अमले को निर्देश दिए हैं। शावक की मां की पहचान करने के लिए जंगल में हाथियों की मदद से गश्त की जाएगी। क्षेत्र में बाघ-बाघिन के मूवमेंट की निगरानी की जा रही है। ऐसा हो सकता है कि मादा शावक मां के साथ घूम रही होगी और मेल टाइगर ने उसे मार दिया होगा।
-25 दिन में बांधवगढ़ के तीन बाघों की मौत
21 जुलाई को बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में मानपुर बफर परिक्षेत्र के देवरी बीट में बाघ का क्षत-विक्षत शव मिला था। डॉग स्क्वायड और मेटल डिटेक्टर से सर्चिंग कराई गई थी। पोस्टमॉर्टम के बाद अंतिम संस्कार किया गया था। वहीं, 16 जुलाई को देवरी बीट में ही एक बाघिन की मौत हो गई थी। बाघिन की पीठ पर घाव हो गया था, जिसमें कीड़े पड़ गए थे। इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button