लम्बित मांगों के शीघ्र निराकरण के लिए बैंक कर्मियों का प्रभावी प्रदर्शन किया

30 & 31 जनवरी को दो दिवसीय अखिल भारतीय बैंक हड़ताल
भोपाल । यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस,के आह्वान पर देशभर के दस लाख से ज्यादा बैंक कर्मी भारतीय बैंक संघ से अपनी जायज मांगों के शीघ्र निराकरण को लेकर आंदोलित एवं आक्रोशित हैं। उनकी मांग है कि सप्ताह में 5 दिन की बैंकिंग लागू करो, पिछले सेवानिवृत्त बैंक कर्मियों की पेंशन अपडेशन करो, अवशिष्ट मुद्दों का निराकरण करो, बेहतर ग्राहक सेवा के लिए सभी संवर्गों में समुचित भर्ती करो, नई पेंशन योजना रद्द करो और पुरानी पेंशन योजना बहाल करो, वेतन पुनरीक्षण के मांग पत्र पर वार्ता शीघ्र शुरू करो* आदि। इसी तारतम्य मैं राजधानी भोपाल की विभिन्न बैंकों के सैकड़ों बैंक कर्मचारी एवं अधिकारी शुक्रवार 20 जनवरी 2023 शाम 6 बजे अरेरा हिल्स जेल रोड भोपाल स्थित बैंक ऑफ इंडिया के जोनल ऑफिस के सामने एकत्रित हुए। उन्होंने अपनी मांगों के समर्थन में जोरदार नारेबाजी कर प्रभावी प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के पश्चात सभा हुई जिसे फोरम के पदाधिकारियों वी के शर्मा, संजीव सबलोक, शोभित वाडेल, नजीर कुरैशी, दीपकरत्न शर्मा, डी के पौद्दार, वी एस नेगी, सुनील सिंह, गोवर्धन मिश्रा, तपन व्यास, गुणशेखरन, प्रभात खरे, वासु जेठवानी,शोभित वाडेल,देवेंद्र खरे, दीपक शुक्ला, भगवान स्वरूप कुशवाह, एम एस जयशंकर, अशोक पंचोली, जे पी दुबे_ आदि ने संबोधित किया। वक्ताओं ने बताया कि भारतीय बैंक संघ के पास काफी समय से बैंक कर्मियों की मांगे लंबित हैं लेकिन यह दुर्भाग्य का विषय है कि जानबूझकर मांगों को गंभीरता से नहीं लिया जा रहा है। उन्होंने भारतीय बैंक संघ को आगाह किया कि उनकी लंबित मांगों का निराकरण शीघ्र किया जाए अन्यथा *देशभर के दस लाख बैंक कर्मचारी एवं अधिकारियों द्वारा 30 एवं 31 जनवरी 2023 को अखिल भारतीय बैंक हड़ताल की जाएगी। उन्होंने समस्त बैंक कर्मियों से हड़ताल को सफल बनाने की अपील की।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post