शरद यादव जी एक विचार बन गए अब उस विचार को अपने में समाहित करना और जन जन तक पहुंचाना हमारा लक्ष्य" : सूरज जायसवाल

जिला कमेटी जबलपुर ने स्मृति शेष शरद यादव जी को दी श्रद्धांजलि

भोपाल । जिला जनता दल यू कार्यालय में आज स्मृति शेष श्री शरद यादव जी को श्रद्धांजलि देने एक शोक सभा आयोजित की गई.श्रद्धांजलि सभा में प्रदेश अध्यक्ष सूरज जायसवाल जी ने कहा कि श्री शरद यादव एक व्यक्ति नहीं  विचार धारा हैं वो एक सच्चे समाजवादी नेता थे.वह डॉ राम मनोहर लोहिया जी से बहुत प्रभावित थे.उन्होंने सम्पूर्ण जीवन समाजवादी विचारधारा को आगे बढ़ाने में लगा दिया वे संबंधों को बनाने से ज्यादा निभाने में विश्वास रखते थे यही कारण था कि दो बार जबलपुर से सांसद बनने के बाद उन्होंने जबलपुर को हमेशा अपने प्राथमिकता में रखा और जब भी केंद्र में सरकार रहते हुए उन्हें कुछ देने का वक्त आया तो जो भी दिया वह सबसे पहले जबलपुर को दिया वे सामाजिक उत्थान के लिए लड़ते थे और समाज में फैली हुई व्यक्तियों को खत्म कर देना चाहते थे इसीलिए उन्होंने अपने परिजनों को भी निर्देश दे रखा था की मृत्यु उपरांत किसी प्रकार का भी मृत्यु भोज आयोजित किया जाए लिंग भेद की भी विरोधी थे और लड़के और लड़की में किसी प्रकार का भी फर्क नहीं समझते थे इसलिए अंतिम संस्कार में भी उनकी बेटी और बेटे दोनों ने एक साथ भूमिका निभाई.प्रदेश उपाध्यक्ष संतोष नेमा ने कहा की शरद यादव जी ने अपने राजनैतिक जीवन में जबलपुर को हमेशा प्राथमिकता दी है आज जबलपुर आज जबलपुर मैं जो भी बड़ी उपलब्धियां हैं वह सभी श्री शरद यादव जी की ही  सौगात हैं. ट्रिपल आईआईटी इंजीनियरिंग कॉलेज एफसीआई गोदाम कुतुब एक्सप्रेस डूमना हवाई  रेलवे जोन आदि सभी उनके प्रयासों से ही हमें मिला है जिला अध्यक्ष सुभाष जायसवाल ने कहा कि श्री यादव जी के समाजवादी विचार हमेशा अमर रहेंगे हम आज इस अवसर पर शपथ लेते हैं कि हम सभी उनके द्वारा बताए गए मार्ग पर चलें यही उनको सच्ची श्रद्धांजलि होगी. प्रदेश सचिव श्री उदय कुमार साहू जी ने कहा कि श्री यादव जी के समाजवादी विचारों को आगे बढ़ाने का सही समय है उनके विचार आज भी प्रासंगिक हैं समाज में सर्वधर्म समभाव जाति विहीन समाज आर्थिक समानता के बगैर हम समाजवाद की कल्पना नहीं कर सकते.इस अवसर पर श्री जे पी दुबे, मनमोहन दुबे, एस के कोरी, बी डी राय, जेपी गिनारा, निलेश ठाकुर, कुलदीप पौराणिक, आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post