पूर्व विधायक पटेरिया की हाईकोर्ट ने जमानत की अर्जी रखी सुरक्षित

भोपाल । इस मामले में विशेष न्यायालय से दो बार जमानत अर्जी निरस्त होने के बाद हाई कोर्ट की शरण ली गई है। न्यायमूर्ति संजय द्विवेदी की एकलपीठ के समक्ष मामला सुनवाई के लिए लगा। इस दौरान पटेरिया की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता शशांक शेखर ने पक्ष रखा। उन्होंने दलील दी कि आवेदक के विरुद्ध जो धाराएं लगाई गई हैं, उसमें कोई तथ्य नहीं हैं। मामला राजनीति से प्रेरित है। पटेरिया ने जो वक्तव्य दिया था, उसी में मंतव्य भी स्पष्ट कर दिया था। उनके बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया था। वहीं राज्य शासन की ओर से जमानत अर्जी का विरोध किया गया।

प्रधानमंत्री पर टिप्पणी का है मामला 
 प्रधानमंत्री पर टिप्पणी के बाद पन्ना के पवई थाने में राजा पटेरिया के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। पुलिस ने 13 दिसंबर को राजा पटेरिया को पुलिस गिरफ्तार किया था। पवई कोर्ट और उसके बाद ग्वालियर जिले के विशेष (एमपी-एमएलए) कोर्ट से दो बार जमानत अर्जी निरस्त हुई। इसके बाद पटेरिया ने हाई कोर्ट की ग्वालियर बेंच में जमानत अर्जी दायर की थी। यह अर्जी हाई कोर्ट की मुख्यपीठ जबलपुर ट्रांसफर कर दी गई।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post