भ्रष्टाचार और अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ा प्रवासी भारतीय सम्मेलन : त्रिपाठी

प्रवासी भारतीय सम्मेलन भी भाजपा सरकार की तरह फ़्लॉप शो साबित हुआ

प्रवासी भारतीयों को प्रदेश में आमंत्रित करने की जगह,प्रदेश के उन युवाओं को आमंत्रित करे शिवराज जो शिक्षा और रोज़गार के लिए मप्र से पलायन कर चुके है: विवेक त्रिपाठी

भोपाल : इंदौर में मप्र शासन द्वारा करोड़ों रुपया बहा कर प्रवासी भारतीय सम्मेलन आयोजित किया गया जिसका उद्देश्य प्रदेश में व्यापारिक निवेश को बढ़ावा देना था परंतु ये आलीशान आयोजन भ्रष्टाचार और अव्यवस्था की भेट चढ़ गया इसमें उपस्थित कई प्रवासी भारतीयों ने अपने आपको अपमानित महसूस किया कई विदेशी नागरिकों को भी आमंत्रित किया गया था परंतु अव्यवस्थाओं के चलते ये सभी अतिथियों ने कार्यक्रम का बहिष्कार किया और अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की,जिस के बाद स्पष्ट हो गया है कि भाजपा सरकार के अन्य आयोजनों की तरह ही ये आयोजन भी फ्लॉप शो साबित हुआ इस आयोजन से उम्मीद लगाये बैठी सरकार को सिर्फ़ निराशा ही हाथ लगेगी क्यों की जिन अतिथियों को आज अपमान का सामना करना पड़ा है वो प्रदेश में निवेश तो दूर पर्यटन करने से भी हिचकेंगे। 

युवा कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष विवेक त्रिपाठी ने कहा की शिवराज सरकार कई दिनों से इस आयोजन कि ब्रांडिंग पर पैसा पानी की तरह बहा रही थी प्रदेश की जानता के बीच भी कोतूहल का विषय था की बदहाल अर्थव्यवस्था को इस महायोजन से कितना लाभ होगा पर आज स्पष्ट हुआ कि लाभ सिर्फ़ उन चहेतों को हुआ है जिन्होंने इस आयोजन की तैयारी के नाम पर करोड़ों की चाँदी काटी है। आश्चर्य का विषय है की इतने भारीभरकम आयोजन में अतिथियों के उठने बैठने तक की व्यवस्था करने में सरकार असफल साबित रही ।

त्रिपाठी ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी को हम सुझाव देना चाहते है की अगर आप प्रदेश कि कुछ भला करना ही चाहते है तो प्रवासी भारतीयो से जायदा प्रदेश के उन युवाओं को आमंत्रित करे या वापस बुलाने की नीति बनाये जो बेहतर रोज़गार और शिक्षा की चाहत में अपने प्रदेश से पलायन कर चुके है और अन्य राज्यो की अर्थव्यवस्था को लाभ पहुँचा रहे है। आज अगर प्रदेश के युवाओं को अपने ग्रह राज्य में ही अवसर मिले तो वे ज़रूर प्रदेश की ख़ुशहाली और तरक़्क़ी में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करेंगे।



0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post