भोपाल में विकास यात्रा 5 से 25 फरवरी तक निकाली जाएगी

भोपाल । कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बताया कि जिले में 5 से 25 फरवरी तक विकास यात्रा का सभी ग्रामों, शहरी वार्डों में आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि विकास यात्रा का संचालन विधानसभावार किया जाएगा। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक विकास यात्रा निकाली जाएगी। विकास यात्रा विधानसभा क्षेत्र के सभी ग्रामों एवं शहरी वार्डों से होकर गुजरेगी। कलेक्टर श्री लवानिया ने बताया कि विकास यात्रा में सबसे आगे "विकास पताका" ध्वज के रूप में रहेंगी। इस पताका को फहराने का उद्देश्य यह है कि दसों दिशाओं में विकास ही सरकार का एक मात्र लक्ष्य है और इसके लिए सरकार समर्पित भाव से कार्य कर रही हैं। 

 कलेक्टर श्री लवानिया ने बताया कि विकास और जनकल्याण के माध्यम से सुराज के लक्ष्यों को प्राप्त करना, इस यात्रा की सर्वोच्च प्राथमिकता है। यात्रा का उद्देश्य विभिन्न विकास गतिविधियों एवं उपलब्धियों को जनता के साथ साझा करना एवं भविष्य में आत्म निर्भर, समृद्ध और विकसित मध्यप्रदेश के निर्माण के उद्देश्य से नए विकास कार्यों की आधारशिला रखी जाएगी। कलेक्टर ने बताया कि विकास यात्राओं में स्थानीय गणमान्य नागरिक, समाजसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि स्थानीय जनप्रतिनिधि, वालिंटियर्स और विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत लाभान्वित हितग्राही एवं आम नागरिक सम्मिलित होंगे। 

 जिले में ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में आयोजित की जाने वाली विकास यात्राओं के रूट एवं रूपरेखा का निर्धारण जिले के प्रभारी मंत्री के परामर्श से किया जाएगा। विकास यात्रा के लिए निकटतम ग्रामों एवं वार्डों के क्लस्टर समूह निर्मित किए जाएंगे। क्लस्टर में सम्मिलित प्रथम ग्राम से प्रारंभ होकर यात्रा अन्य सभी ग्रामों से गुजरती हुई क्लस्टर के अंतिम ग्राम में समाप्त होगी। 

 कलेक्टर श्री लवानिया ने बताया कि विकास यात्रा के दौरान विभिन्न गतिविधियां संचालित की जाएगी जिसमें ग्राम / वार्ड के विभिन्न विकास कार्यों का शिलान्यास लोकार्पण , विभिन्न शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के हितग्राहियों के साथ योजना का लाभ मिलने के पूर्व की स्थिति एवं लाभ मिलने के पश्चात उनकी स्थिति में परिवर्तन पर संवाद, ग्राम और नगर में नागरिकों, किसानों, मजदूरों, विद्यार्थियों, महिलाओं और स्व-सहायता समूह आदि द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में की गई अभिनव पहल और उनकी सफलता की कहानियों पर चर्चा की जाएगी। उन्होंने बताया कि केन्द्र और राज्य सरकार की फ्लैक्शिप योजनाओं और उनकी लाभों के बारे में आम नागरिकों को जानकारी देना एवं योजनाओं का प्रचार-प्रसार करना। शासकीय संस्थाओं में स्वास्थ्य केन्द्र, आंगनबाड़ी, विद्यालय, राशन की दुकान, ग्राम पंचायत कार्यालय, पुलिस थाना, पशु चिकित्सालय, सहकारी साख समिति आदि का भ्रमण कर व्यवस्थाओं को और बेहतर बनाने तथा अधोसंरचना में सुधार आदि के लिए सुझाव प्राप्त किए जाएंगे। 

 कलेक्टर श्री लवानिया ने बताया कि जिले में प्रतिदिन आयोजित होने वाली विकास यात्राओं में लोकार्पण, शिलान्यास, परियोजनाओं की संख्या एवं राशि, हितग्राही मूलक योजनाओं में हितलाभ वितरण की संख्यात्मक जानकारी और यात्रा एवं यात्रा के दौरान आयोजित कार्यक्रमों के छायाचित्र, वीडियो एवं अन्य प्रमुख गतिविधियों की जानकारी नियमित रूप से विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अपलोड की जाएगी। उन्होंने बताया कि विकास यात्रा से संबंधित संपूर्ण जानकारी सीएम हेल्पलाइन पोर्टल के माध्यम से दर्ज की जाएगी। उन्होंने कहा कि पोर्टल में एक पृथक मॉडयूल तैयार कर अधिकारियों के लिए लॉगइन की सुविधा दी जाएगी। 

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post