योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन 2023 में हिस्सा लेने वाले 10 पुरुष खिलाड़ी, जिन पर रहेगी नजर

नई दिल्ली । भारत का सबसे बड़ा बैडमिंटन टूर्नामेंट-योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन 2023 नई दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम के केडी जाधव हाल में 17 से 22 जनवरी तक आयोजित होगा। हमेशा की तरह यह टूर्नामेंट भव्य होगा लेकिन इस साल इसकी भव्यता में विस्तार हुआ है। पहले यह सुपर 500 इवेंट था और अब बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर सुपर 750 इवेंट हो गया है। इस कारण इसमें इस साल हिस्सा लेने वाले सितारों की चमक बढ़ गई है।
 
दुनिया के महानतम शटलर भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) द्वारा आयोजित किए जाने वाले योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन में एक हाई-वोल्टेज एक्शन में दिखेंगे, ऐसे में उन 10 पुरुष खिलाड़ियों के बारे में जानना जरूरी है, जिन्हें कोर्ट पर खेलते देखना सुखद अहसास होगा।
  
1. विक्टर एक्सेलसेन (डेनमार्क)
टोक्यो ओलंपिक चैंपियन और मौजूदा विश्व नंबर-1 विक्टर एक्सेलसेन नई दिल्ली में खिताब जीतने के प्रबल दावेदार होंगे। डेनमार्क के इस 29 वर्षीय खिलाड़ी ने 2017 और 2019 में इससे पहले दो बार भारत में टूर्नामेंट जीता था। टूर्नामेंट के पिछले संस्करण में हालांकि वह शामिल नहीं थे। मलेशिया ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद एक्सेलसेन ने 2023 की शानदार शुरुआत की है। उनके लिए 2022 सनसनीखेज रहा था। उन्होंने बीते साल खेले गए 12 में से आठ टूर्नामेंट जीतने में कामयाबी हासिल की थी। इसमें वर्ल्ड टूर फाइनल्स, वर्ल्ड चैंपियनशिप और ऑल इंग्लैंड ओपन चैंपियनशिप के खिताब भी शामिल हैं।

2. एंथोनी सिनिसुका गिंटिंग (इंडोनेशिया)
इस वर्ल्ड नंबर-4 इंडोनेशियाई शटलर के लिए 2023 की शुरुआत बहुत अच्छी नहीं रही क्योंकि वह साल के पहले टूर्नामेंट-मलेशिया ओपन के क्वार्टर फाइनल से बाहर हो गए थे। हालांकि, टोक्यो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता वर्ष के दूसरे टूर्नामेंट-योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन में कुछ खास प्रदर्शन के साथ ट्रैक पर वापसी के इच्छुक होंगे। इस 26 वर्षीय खिलाड़ी ने विक्टर एक्सेलसेन से हारने के बाद वर्ल्ड टूर फाइनल्स में उपविजेता होने के साथ 2022 का समापन करने से पहले हीलो ओपन और सिंगापुर ओपन का खिताब जीता था।
  
3. ली जी जिया (मलेशिया)
मलेशिया के ली जी जिया एशियाई चैंपियन हैं और दुनिया के दूसरे नम्बर के खिलाड़ी भी हैं। उन्होंने पिछले साल थाईलैंड ओपन का खिताब जीता था और डेनमार्क ओपन में दूसरे स्थान पर रहे थे। इस 24 वर्षीय खिलाड़ी के लिए हालांकि 2023 की शुरुआत किसी बुरे सपने की तरह रही थी क्योंकि वह मलेशिया ओपन के शुरुआती दौर में ही बाहर हो गए थे। जी जिया उस दुर्भाग्यपूर्ण हार को पीछे छोड़कर नई दिल्ली में एक नई शुरुआत करने के लिए उत्सुक होंगे। इसी मकसद के साथ वह इस साल योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन 2023 में हिस्सा लेंगे।
 
4. एचएस प्रणॉय (भारत)
साल 2022 की शानदार समाप्ति के बाद विश्व रैंकिंग में भारत के नंबर-1 खिलाड़ी एचएस प्रणॉय निश्चित रूप से घरेलू फैंस के सामने खिताब जीतना चाहेंगे। हालांकि इस 30 वर्षीय खिलाड़ी का वर्ल्ड टूर फाइनल्स में अभियान ग्रुप चरण में ही खत्म हो गया था लेकिन विश्व नंबर-1 विक्टर एक्सेलसेन के खिलाफ उनकी आश्चर्यजनक जीत ने उन्हें ढेर सारा आत्मविश्वास दिया होगा। थॉमस कप चैंपियन ने भी साल का अंत आठ की करियर-उच्च रैंकिंग के साथ किया। 2022 का उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन स्विस ओपन में रहा, जहां वह फाइनल में हार गए था। वह कई मौकों पर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के अलावा मलेशिया मास्टर्स और इंडोनेशिया ओपन में भी तीसरे स्थान पर रहे।

5. लक्ष्य सेन (भारत)
मौजूदा योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन चैंपियन लक्ष्य सेन पिछले संस्करण के अपने प्रदर्शन को दोहराने के लिए उत्सुक होंगे, जहां उन्होंने मौजूदा वर्ल्ड नंबर-6 लोह कीन यू को हराकर अपना पहला सुपर 500 खिताब जीता था। बीते साल के लिहाज से लक्ष्य के पास याद रखने के लिए काफी कुछ है। उन्होंने 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में एकल स्वर्ण और युगल रजत जीता था और वह उस भारतीय पुरुष टीम का भी हिस्सा थे, जो थॉमस कप चैंपियन बनी थी। मौजूदा विश्व नंबर-10, जिनके नाम 2021 विश्व चैंपियनशिप का कांस्य भी है, से उम्मीद की जाती है कि वह पिछले साल का अपना फॉर्म जारी रखेंगे और घरेलू फैंस के सामने एक बार फिर से अपने खिताब की रक्षा करने में सफल होंगे।
 
6. किदांबी श्रीकांत (भारत)
भारत के लिए सबसे अधिक खिताब जीतने वाले किदांबी श्रीकांत ने 2015 में इंडिया ओपन जीता था। उसी वर्ष वह स्विस ओपन ग्रां प्री में स्वर्ण जीतने वाले पहले भारतीय बने थे। साथ ही पूर्व विश्व नंबर-1 2021 में विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी भी बने थे। 2022 में राष्ट्रमंडल खेलों में एकल का कांस्य पदक और थॉमस कप में स्वर्ण पदक शामिल उनकी झोली में है। मलेशिया ओपन के अंतिम-32 दौर में केंटा निशिमोतो के खिलाफ हार का सामना करने के बाद, श्रीकांत योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन 2023 में एक मजबूत प्रदर्शन के साथ खुद को जीत की पटरी पर लाने के लिए उत्सुक होंगे।
 
7. शी यूकी (चीन)
पूर्व विश्व नंबर-2 पिछले साल दो या उससे अधिक बीडब्ल्यूएफ टूर खिताब जीतने वाले केवल तीन पुरुष एकल खिलाड़ियों में शामिल थे। शी ने पिछले साल अगस्त में 10 महीनों में पहली बार 2022 बीडब्ल्यूएफ विश्व चैंपियनशिप में वापसी की और केवल छह इवेंट्स में भाग लेने के बावजूद वह डेनमार्क ओपन और ऑस्ट्रेलियन ओपन में खिताबी जीत हासिल करने में सफल हुए। उन्होंने 2018 में इंडिया ओपन खिताब जीता था और पहले दौर में मलेशिया ओपन से बाहर होने के बाद 2023 में खराब शुरुआत के बाद इंडिया ओपन करे इस साल के संस्करण में अच्छा प्रदर्शन करने को लेकर दृढ़ संकल्पित होंगे।
 
8. चिराग शेट्टी- सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी (भारत)
देश की जानी-मानी पुरुष युगल जोड़ी 2022 की सफलता के बाद योनेक्स सनराइज ओपन में अपना खिताब फिर से हासिल करने की प्रबल दावेदार है। भारत की अब तक की सर्वोच्च रैंकिंग वाली पुरुष युगल जोड़ी होने के नाते- चिराग और सात्विक ने बीडब्ल्यूएफ विश्व चैंपियनशिप में देश का पहला पुरुष युगल पदक अपने नाम किया। इन दोनों ने पिछले साल टूर्नामेंट में कांस्य हासिल किया था। इस जोड़ी ने 2022 फ्रेंच ओपन में जीत हासिल करके अपना पहला बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड सुपर 750 खिताब भी जीता था। उन्होंने मलेशिया ओपन में शानदार प्रदर्शन करते हुए 2023 की धमाकेदार शुरुआत की है और अब वे इसे जारी रखना चाहेंगे।

9. हेंड्रा सेतियावान - मोहम्मद अहसान (इंडोनेशिया)
पुरुष युगल रैंकिंग में दूसरे स्थान पर काबिज-हेंड्रा सेतियावान और मोहम्मद अहसान की बेहद शानदार जोड़ी अपने उच्च स्तरीय गेमप्ले के साथ योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन 2023 में शानदार प्रदर्शन करने को उत्सुक होगी। दोनों विश्व चैंपियनशिप में तीन बार के स्वर्ण पदक विजेता हैं। इन्हें पुरुष युगल में बैडमिंटन की सबसे बड़ी जोड़ियों में से एक माना जाता है। 2022 में इन दोनों ने राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुषों के युगल रजत पदक पर कब्जा किया लेकिन 2022 इंडिया ओपन पुरुष युगल फाइनल में भारत के चिराग और सात्विक से हार गए। उस परिणाम को ध्यान में रखते हुए, यह जोड़ी इसका बदला लेने के लिए भारत पहुंचेगी और अपना बेस्ट खेल दिखाएगी।

10. आरोन चिया - सो वूई यिक (मलेशिया)
पुरुषों की डबल्स में 2021 ओलंपिक खेलों की कांस्य पदक विजेता जोड़ी- हारून और सोह बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में मौजूदा वर्ल्ड नंबर-3 हैं। उनके लिए 2022 यादगार रहा। इन दोनों ने पुरुष डबल्स में विश्व चैंपियंस का ताज पहना और साथ ही एशियाई खेलों में रजत पदक हासिल किया। यह जोड़ी उच्चतम स्तर के बैडमिंटन के साथ योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन 2023 को रोशन करेगी और पहली बार यह टूर्नामेंट जीतने का प्रयास करेगी।





0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post