ईपीएफओ ने मई 2022 तक किसी भी निगम मण्डलों को हायर पेंशन के लिए विकल्प पत्र नही भेजा 2014 के पूर्व के पेंशनर्स दोषी नही

भोपाल । सेवानिवृत्त अर्द्ध शासकीय अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन के प्राँताध्यक्ष अनिल बाजपेई एवं महासचिव अरुण वर्मा ने बताया की 3 जनवरी 2023 को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के लेखाधिकारी (पेंशन) से वर्ष 2014 के पूर्व के सेवानिवृत्त कर्मचारियों को हयार पेंशन का लाभ देने के सम्बन्ध में चर्चा हुई उन्होने अवगत कराया कि वर्ष 2014 के पूर्व के उन्हीं पेंशनरों को हयार पेंशन का लाभ मिलेगा जिन्होने सेवा में रहते हुए 11(3)का विकल्प भरा है इस सम्बन्ध में महासचिव अरुण वर्मा ने अवगत कराया कि संगठन द्वारा सभी निगम मण्डलों सहकारी संस्थाओं को पत्र लिख कर 11(3)के विकल्प प्राप्त अथवा अप्राप्त सम्बन्धी जानकारी माँगी गईं थी सभी निगम मण्डलों सहकारी संस्थाओं मध्यप्रदेश स्टेट सिविल सप्लाईज कारपोरेशन कुक्कुट विकास निगम महिला वित्त एवं विकास निगम वन्य प्रकाशन आदिवासी वित्त विकास निगम भोपाल कौआप्रेटिव सेन्ट्रल बैंक पर्यटन निगम ऊर्जा विकास निगम खादी बोर्ड पाठ्यपुस्तक निगम माइनिंग कारपोरेशन बीज एवं फार्म विकास निगम राज्य सहकारी आवास संघ मत्स्य महासंघ लघु उद्दोग निगम अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम उद्द्मी संस्थान मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद हिन्दी ग्रन्थ अकादमी ने लिखित में अवगत कराया है कि ईपीएफओ द्वारा 11(3) के विकल्प सम्बन्धी कोई पत्र प्राप्त नही हुआ है और न ही इस सम्बन्ध में ईपीएफओ द्वारा कोई जानकारी माँगी गईं है ऐसी स्थित में वर्ष 2014 के सेवानिवृत्त पेंशनर्स 11(3)का विकल्प कैसे प्रस्तुत कर सकेंगे इसके लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन जवाबदार है क्योंकि जब ईपीएफओ द्वारा विकल्प जमा करने सम्बन्धी परिपत्र जारी ही नही किया गया है तो इसके लिए सेवानिवृत्त पेंशनर्स दोषी नही हैं उन्हे एक मौका देकर सेवानिवृत्त पेंशनरों से विकल्प भराया जाय। अन्यथा धरना प्रदर्शन होगा और न्यायालय में यचिका दायर करेंगे


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post