सुनील आचार्य गुना से जवलपुर जैड आर यू सी सी मेम्बरो की 19 वी बैठक में सम्मिलित हुये

गुना । जैसा कि सुनील आचार्य ने पहले ही बता दिया था कि उक्त क्षेत्र के रेल यात्रियो की परेशानियो को अनदेखा करने पर में सभा के दौरान मिलने बाली सुविधाओ को नही लूंगा उन्होने बैठक के दौरान पूरी ईमानदारी से कोई भी सुविधा को नही लिया विश्राम ग्रह से वह सभा ग्रह तक पैदल गये बैठक के दौरान नाश्ता चाय पानी और बैठक उपरांत दौपहर को लंच भी नही लिया सुनील आचार्य ने बैठक के दौरान रेल महाप्रबंधक के समक्ष गरम जोशी से गाडी संख्या 22983/84 कोटा वाया रुठियाई इंदौर गाडी के रुट परिवर्तन करने की बात कही जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने कहा कि आपने भेजे पत्र में लिखा है कि उक्त क्षेत्र के लोग नही चाहते उनका अहित होगा रुट परिवर्तन करने से तब सुनील आचार्य ने कहा कोटा से बारां अटरू लाइन की सभी स्टेशनो पर और व्यावरा पचौर सारंगपुर स्टेशनो पर मैने भृमण कियि और वहा के रेल यात्रियो से मिलने पर सभी ने सुझाव दिये कि उक्त गाडी का रुट परिवर्तन करने से उक्त क्षेत्र के रेल यात्रियो को इंदौर और भोपाल जाने के लिए एक सुरक्षित सुलभ सस्ता साधन मिलेगा इससे अच्छी बात क्या हो सकती रुट परिवर्तन करने से उक्त क्षेत्र के किसी भी वर्ग के यात्रियो को परेशानी नही होगी इसके लिऐ श्रीमान जी के नाम उक्त क्षेत्र के यात्रियो ने ज्ञापन भी दिया है जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने यही बात 12197/98 ग्वालियर भोपाल इंटरसिटी के रूट परिवर्तन को लेकर कहां कि शिवपुरी गुना अशोकनगर जिले के सभी यात्रियो ने श्रीमान जी के नाम ज्ञापन देकर अपनी स्वीकृति जताई है कि उक्त गाडियो के रुट परिवर्तन करने से उक्त क्षेत्र के लोगो का चार महानगरो से जुडाव होगा जो शिक्षा व्यापार रोजगार चिकित्सा के लिए एक विकास का नया मार्ग प्रशस्त होगा सुनील आचार्य ने कहां दोनो गाडियां पांच जिलो से पास होती है शिवपुरी गुना अशोकनगर बांरा व्यावरा राजगढ इन सभी जिलो के रेल यात्रियो ने श्रीमान जी को ज्ञापन देकर उक्त गाडियो के रुट परिवर्तन को लेकर स्वीकृति दी है फिर भी महोदय ने भेजे पत्र में लिखा है कि उक्त गाडिया उस मार्ग के रेल यात्रियो की सुविधाओ का अहित होगा समय ज्यादा लगेगा मेंटीनेंस के लिए समय नही मिलेगा जिस पर सुनील आचार्य ने कहां कि ग्वालियर से गुना होते हुये इंदौर की दूरी 514 किमी है जो 7 घंटे 30 मिनट में पूरी होती है वापिस उक्त गाडी ग्वालियर रात 11ः40 बजे पहुंचती है उक्त गाडी लगभग 7 बजे ग्वालियर में खडी रहती है जवकि 6 घंटे पर्याप्त होते है एक गाडी के मेंटीनेंस के लिए इस तरह 1 घंटा ज्यादा ही मिल रहा है वह भी अटरु स्टेशन पर ठहराव होने पर फिर अधिक समय कहां लग रहा है इसी तरह जैड आर यू सी मेम्बर सुनील आचार्य ने कोटा से गुना होते हुये भोपाल की दूरी 441 किमी बताया और उक्त गाडी 7 घंटे 40 मिनट पहुचने में लगते है पिपर ई स्टेशन ठहराव होने पर यह तो रुट बदल कर समय लगता है और यही समय दूरी वर्तमान में उक्त गाडियो के संचालन करने में लग रहा है फिर क्यो नही आप उक्त गाडियो का रुट परिवर्तन करने में रेल यात्रियो को रेल सुविधा से वंचित करने का प्रयास कर रहे है जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने कहा कि उक्त गाडियो के रुट परिवर्तन करने से यात्रियो को ही नही अपितु रेल प्रशासन के अनावश्यक व्यय पर भी लगाम लगेगी और रेल यात्रियो को भरपूर सुविधा मिलेगी इस लिए उक्त गाडियों का रुट परिवर्तन यात्री हित में किया जाये जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने उक्त गाडियो के रुट परिवर्तन करने हेतू पिपर ई सांरगपुर अटरु स्टेशन पर ठहराव के साथ समय सारणी बनाकर पत्र में दी है । जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने कहां बीना नागदा गाडी पूर्व समय में यात्रियो की सुविधा के अनुसार चलती थी जिससे बीना से व्यावरा तक रेल यात्री व्यापारी नौकरी पैसा लोग अपडाउन करते थे जिसमे भारी भीड़ होती थी उस गाडी का समय किन यात्रियो के कहने पर किया गया जवकि उक्त गाडी का समय परिवर्तन को लेकर उक्त क्षेत्र के किसी वर्ग के यात्री ने नही किया फिर उक्त गाडी का समय क्यो बदला गया इस लिए उक्त गाडी को पूर्व समय अनुसार संचालन हो यात्री हित में। जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने रेल महाप्रबंधक के समक्ष कहा कि गुना स्टेशन पर तीन प्लेटफार्म है और 24 घंटे में 60 से 65 गाडियां गुना स्टेशन से पास होती है जिसकारण प्लेटफार्म खाली न होने से तीनो ओर से घंटो गाडियां आउटर पर खडी रहती है रात में वीरान जगह खडे रहने से यात्री असामाजिक तत्वो से भयवीत रहता है अपने परिवार और लगेज इस लिए गुना स्टेशन पर मालगाडियो के लिए नोन प्लेटफार्म बनाना चाहिये जिस पर मालगाडियां खडी हो सके वही उन्होने श्रीराम कालोनी से लगे मालगोदाम हटाने की भी बात कही उन्होने कहां सीमेंट के रेक और अन्य सामान आने जाने के लिए ट्रक आते जाते है बस्ती होने से रहवासियो को बहुत परेशानी होती इस माल गोदाम को महुगढा या मावन ले जाया जाये सुनील आचार्य ने कहां कि पिछले 3 वर्षो से उक्त क्षेत्र की लाइफलाइन 5160,08,09 गाडी बंद पडी हुई है जिससे उक्त क्षेत्र का सभी वर्ग का रेलयात्री आना जाना करता था और अपने कार्य कर वापिस आ जाता था परन्तु उक्त गाडी के बंद होने से सभी वर्ग का रेलयात्री परेशान हो रहा है इस लिए जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने रेल महाप्रबंधक के समक्ष प्रमुखता से सुझाव रखा कि हिसार कोटा 19907/8 गाडी हिसार से कोटा सुबह 5ः20 पर आ जाती और रात 11ः50 पर कोटा से हिसार के लिए रवाना होती है लगभग 18 घंटे गाडी कोटा में ही फालतू खडी रहती है इस लिए उक्त गाडी को कोटा से 5ः30 पर गुना होते हुये बीना तक संचालन करना चाहिए एसा करने से गुना से बीना जाने के लिए लाइफ लाइन की कमी पूरी हो जायेगी और बीना में 6 घंटे उक्त गाडी का मेंटीनेंस होने के बाद बीना से अपरांह 4ः30,5 बजे तक गुना होते हुये कोटा के लिए संचालन करने से उक्त क्षेत्र के लोगो को कोटा जाने के लिए सांय एक गाडी मिल जायेगी जिसमे पढने बाले छात्र छात्राओ और आस्था के केन्द्र बिन्दु खाटू श्याम जी सालासर बालाजी आदि तीर्थस्थलो पर जाने बालो के लिए सुविधा मिल सकेगी और कुरूक्षेत्र लुधियाना अमृतसर जैसे महानगरो की भी दूरी कम हो जायेगी उक्त गाडी के संचालन होने से रेल यात्रियो को ही नही अपितु रेल प्रशासन के राजस्व में भी बढोत्तरी होगी। जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने वही गुना स्टेशन पर इलेक्ट्रॉनिक वोगी डिस्प्ले और पूछताछ खिडकी पर गाडियों की आवा जाही जानकारी के लिए स्क्रीन डिस्प्ले घडी केमरे और दूसरी लिफ्ट का कार्य पूर्ण न होने की बात रखी जिस पर रेल महाप्रबंधक ने कहां 27/09/2023 यह कार्य पूर्ण हो जायेगा जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने प्लेटफार्म 1 पर चौडाई को लेकर बात की और टीन शैड की लम्बाई बढाने हेतू बताया सुनील आचार्य ने गुना आरोन न ई रेल लाइन डलने को लेकर रेल महाप्रबंधक को अवगत कराया उन्होने कहा कि उक्त मार्ग का सर्वे 2013 में पूर्ण हो गया परन्तु तब से उक्त कार्य पर कोई ध्यान नही दिया इस लिए उक्त मार्ग पर न ई रेल लाइन हेतू कार्य प्रारंभ होने की बात कही जैड आर यू सी सी मेम्बर सुनील आचार्य ने गुना भिंड इटावा लाइन पर गाडियां बढाने हेतू महोदय का ध्यानाकर्षित करवाया उक्त लाइन पर गाडियाः चलने से दिल्ली कानपूर शहर की दूरी कम होगी यात्रियो का धन और समय बचेगा इस लिए उक्त लाइन पर गाडिया बढाई जाये ।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post