टीबी फ्री डिस्टिक का सर्वे प्रारंभ, 15 दिन तक चलेगा सर्वे कार्य

भोपाल । मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्य्क अधिकारी डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि टीबी नियंत्रित कार्यक्रम अंतर्गत जिले को सब नेशनल सार्टिफिकेशन फॉर टीबी फ्री डिस्रि कक के लिए ब्रॉन्ज मैउल प्रदान किए जाने के लिए सर्वे का कार्य मंगलवार से आरंभ हो गया है। उन्होंने बताया कि यह सर्वे लगभग 15 दिवस तक शहर की विभिन्न बस्तियों में किया जाएगा। 

 सीएमएचओ डॉ. तिवारी ने बताया कि जिले की लगभग 50 हजार आबादी का सर्वे किया जाएगा। सर्वे कार्य के लिए 2 सदस्य वाली 10 टीम बनाकर विगत दिवस रवाना किया गया। सर्वेक्षण सेंट्रल टीबी डिबीजन द्वारा निर्धारित नोडल पर्सन की देख रेख में किया जाएगा। 

 मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रभाकर तिवारी ने बताया कि टीबी नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत भोपाल जिले ने टीबी के नए केस 20 प्रतिशत तक कम किए हैं। जिसके आधार पर भोपाल जिले द्वारा ब्रॉन्ज़ सर्टिफिकेशन हेतु नामांकन दाखिल किया गया है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश से टीबी उन्मूलन हेतु लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसके तहत वर्ष 2015 की तुलना है। में 2025 तक टीबी के नए केस को 80 प्रतिशत तक कम किया जाना है। 

 सर्वे दल द्वारा 9 जनवरी से 15 दिन तक टीबी की दवाओं के विक्रय के डाटा सहित चार बिन्दुओं पर प्रमुखता से सर्वे किया जाएगा जिसमें जिले के 10 हज़ार घरों या 50000 व्यक्तियों का सर्वे, मेडिकल स्टोर के माध्यम से 2015 से आज तक टीबी की दवा के विक्रय के आंकड़ों, टीबी मरीजों के रिकॉर्ड की जांच एवं टीबी की जांच के माध्यम से टीबी के नए केस के मिलने की संभावनाओं की जांच की जाएगी। भोपाल के टीबी के मरीजों के पिछले 7 सालों के समस्त रिकॉर्ड वेरीफिकेशन कार्य के लिए एकत्रित किये गए हैं।

 जिला क्षय अधिकारी डॉ. मनोज वर्मा ने बताया कि कर्मचारियों को पूर्व में उन्मुखीकरण प्रदान किया जा चुका है। फील्ड स्तर पर सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण की जा चुकी है एवं समस्त कार्यकर्ताओं को मोबाइल ऐप चलाने की ट्रेनिंग दी जा चुकी है। उक्त सर्वे में टीबी के अतिरिक्त मधुमेह, एचआईवी कोविड टीकाकरण एवं स्वास्थ्य संबंधी कई अन्य जानकारियां भी एकत्रित की जाएगी। लोगों में तंबाकू एवं अल्कोहल के सेवन पर भी सर्वे किया जाएगा।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post