संसद का शीतकालीन सत्र कल से, जानें कौन से अहम बिल किए जाएंगे पेश


बुधवार, 7 दिसंबर 2022 से संसद के शीतकालीन सत्र से पहले केंद्र सरकार ने एक सर्वदलीय बैठक बुलाई। बैठक में केंद्र सरकार ने सत्र के दौरान संसद के दोनों सदनों के सुचारू कामकाज के लिए सभी राजनीतिक दलों से सहयोग मांगा।

कब तक चलेगा संसद का शीतकालीन सत्र ?

संसद का शीतकालीन सत्र कल से शुरू होगा और इसका समापन 29 दिसंबर को होगा। सत्र में 23 दिनों में 17 बैठकें होंगी। इससे पहले, संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने सत्र के दौरान विधायी कामकाज पर रचनात्मक बहस और चर्चा की उम्मीद जताई थी।

सत्र में पेश किए जाएंगे 16 विधेयक

बता दें, पिछले सप्ताह सरकार ने शीतकालीन सत्र के दौरान पेश किए जाने वाले 16 विधेयकों की सूची जारी की थी। बैठक में सदन का कार्य सुचारू रूप से सुनिश्चित करने, सत्र के दौरान विधायी कार्यों सहित इससे जुड़े महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा हो सकती है। उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ का यह पहला सत्र होगा। वे राज्यसभा के सभापति के रूप में अध्यक्षता करेंगे।

23 दिन में होगी कुल 17 बैठक

29 दिसंबर को कुल 17 बैठकों के साथ समाप्त होने वाले सत्र के दौरान संसद उन सदस्यों को भी श्रद्धांजलि देगी जिनका अंतर-सत्र अवधि के दौरान निधन हो गया। याद हो, समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम
सिंह यादव का अक्टूबर में निधन हो गया था।

संसद के शीतकालीन सत्र के लिए विपक्ष की ये होगी रणनीति

- मूल्य वृद्धि पर फोकस
- बेरोजगारी
- चीन सीमा विवाद
- केंद्र का टकराव
- न्यायाधीशों की नियुक्ति की कॉलेजियम प्रणाली पर उच्चतम न्यायालय
- कृषि उपज के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) के लिए कानूनी गारंटी की मांग
- 2020-21 किसानों के विरोध की प्रमुख मांग जिसने सरकार को मजबूर किया था कि कृषि के निगमीकरण पर तीन कानूनों को वापस ले
- आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए 10 प्रतिशत कोटा, जिसे हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने बरकरार रखा था
- देश के प्रमुख चिकित्सा संस्थान एम्स पर हाल के साइबर-आतंकवादी हमले पर सरकार से सवाल

दिसंबर से शुरू होगा संसद का शीतकालीन सत्र

संसद का शीतकालीन सत्र 7 दिसंबर से शुरू होगा, जिसमें 16 नए बिल, जैसे ट्रेड अंक (संशोधन) विधेयक, 2022 और बहु-राज्य सहकारी समितियां संशोधन) विधेयक, 2022 को पेश किया जाएगा। कुछ विधेयकों को पहले ही दोनों सदनों या सदनों द्वारा पारित किया जा चुका है। संसदीय समितियों द्वारा कुछ की समीक्षा की गई है, और उन्हें अगले स्तर पर ले जाया जाएगा। हालांकि, डेटा संरक्षण बिल और बिल बैंकिंग अधिनियम, दिवाला कानून और प्रतिस्पर्धा आयोग अधिनियम में संशोधन करने के लिए उन्हें सूची में शामिल नहीं किया गया है।

संसद के इस सत्र में पेश किए जाने वाले 16 विधेयकों की सूची
1. व्यापार चिह्न (संशोधन) विधेयक, 2022
2. वस्तुओं का भौगोलिक संकेत (पंजीकरण और संरक्षण) (संशोधन) विधेयक, 2022
3. बहु-राज्य सहकारी समितियां (संशोधन) विधेयक, 2022
4. छावनी विधेयक, 2022
5. पुराना अनुदान (विनियमन) विधेयक, 2022
6. संविधान (अनुसूचित जनजाति) आदेश (द्वितीय संशोधन) विधेयक, 2022
7. संविधान (अनुसूचित जनजाति) आदेश (तीसरा संशोधन) विधेयक, 2022
8. संविधान (अनुसूचित जनजाति) आदेश (चौथा संशोधन) विधेयक, 2022
9. संविधान (अनुसूचित जनजाति) आदेश (पांचवां संशोधन) विधेयक, 2022
10. निरसन और संशोधन विधेयक, 2022
11. राष्ट्रीय दंत चिकित्सा आयोग विधेयक, 2022
12. नेशनल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी कमीशन बिल, 2022
13. वन (संरक्षण) संशोधन विधेयक, 2022
14. तटीय जलीय कृषि प्राधिकरण (संशोधन) विधेयक, 2022
15. उत्तर पूर्व जल प्रबंधन प्राधिकरण विधेयक, 2022
16. कलाक्षेत्र फाउंडेशन (संशोधन) विधेयक, 2022

कुछ बिल पहले ही पेश किए जा चुके हैं और उन्हें इस सत्र में चर्चा के लिए रखे जाएंगा ताकि उन्हें पास किया जा सके। इनमें है...

- समुद्री डकैती रोधी विधेयक, 2019
- मध्यस्थता विधेयक, 2021
- नई दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र (संशोधन) विधेयक, 2022
- संविधान (अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति) आदेश (द्वितीय संशोधन) विधेयक,2022
- जैविक विविधता (संशोधन) विधेयक, 2021
- वन्य जीवन (संरक्षण) संशोधन विधेयक, 2021
- ऊर्जा संरक्षण (संशोधन) विधेयक, 2022

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post