बिट्ठन मार्केट में एग्री एक्सपो इंडिया का रविवार को अंतिम, जुट रहे हैं हजारों किसान

कृषक ले रहे हैं नई कृषि तकनीकी का लाभ

भोपाल । मध्य प्रदेश भारतीय किसान संघ एवं युवा उड़ान फाउंडेशन के संयुक्त प्रयासों से तीन दिवसीय कृषि मेले का आयोजन 2 दिसंबर चल रजाई जिसमे हजारों की तादात में किसान इस मेले का लाभ लेने पहुंच रहे हैं । मेले में नव कृषि तकनीक, जैविक एवं प्राकृतिक खेती प्रशिक्षण तथा ज्ञान सम्मेलन के साथ-साथ किसानों व कृषि स्टार्टअप्स को मिलने वाले नए अवसरों की जानकारी दी जा रही है। एग्री एक्सपो इंडिया 2022 का आयोजन कृषि विभाग मध्य प्रदेश, मध्य प्रदेश शासन, एमएसएमई एवं नाबार्ड के सहयोग आयोजित किया गया है। आयोजक गोविन्द गोदारा, आयोजक, एग्री एक्सपो इंडिया 2022, ने कहा, "हमारा उद्देश्य कृषि मेले में हिस्सा लेने वाले किसानों को बी2बी और बी2सी बाजार मंच उपलब्ध कराने सहित किसान सलाहकार बूथ, किसानों/आगंतुकों के लिए निःशुल्क कार्यशाला, विशेषज्ञ पैनल विषय विशेषज्ञ सम्मेलन, एवं भारतीय कृषि की नवीनतम तकनीक की प्रदर्शनी लगाई गई। वर्तमान में जैविक देसी बीज, जड़ी बूटियां एवं आयुर्वेद एक्सपो लोकेशन से अब तक करीब 100 से अधिक गाँव जुड़ चुके हैं, हमारा लक्ष्य इस संख्या में सतत रूप से इजाफा करना है।"

श्री नवनीत रघुवंशी, भारतीय किसान संघ ने कहा, "एग्री एक्सपो इंडिया में जैविक फूड स्टाल, ऑर्गेनिक प्रोसेस्ड फूड, जैविक कच्ची घानी तेल, गुड, जैविक अनाज, मसालें व दालें, चावल, शहद, चीनी, कॉफी, चाय आदि के साथ हस्तशिल्प, परंपरागत एवं स्वदेशी उत्पाद बिक्री के लिए उपलब्ध होंगे। कृषि मेले में मौजूद फैमिली फार्मर्स जैविक उत्पादों की बिक्री करेंगे। साथ ही ज्ञान सम्मलेन का आयोजन भी किया गया, जिसके माध्यम से नई कृषि तकनीकों के जरिए मिट्टी की देखभाल आदि विषयों पर पद्मश्री से सम्मानित कृषि विशेषज्ञों द्वारा सलाह दी जा रही है। साथ ही, एक्सपो के माध्यम से कृषि क्षेत्र में अपना स्टार्टअप करने वाले युवाओं के स्टार्टअप आईडिया को प्रमोट करने के साथ उनके उत्पादों को बिक्री के लिए उपलब्ध है। "

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post