मंत्री चंद्रकांत पाटील पर स्याही फेंकने की घटना के बाद भाजपा आक्रामक

मुंबई । महाराष्ट्र के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री चंद्रकांत पाटील पर स्याही फेंकने की घटना के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आक्रामक हो गई है। भाजपा नेता और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि जब चंद्रकांत दादा पाटील ने अपने व्यक्तव्य पर माफी मांग लिया तो उनपर स्याही फेंकना अनुचित है। भाजपा प्रवक्ता राम कदम ने कहा कि हमारे कार्यकर्ता मैदान में उतरने के लिए तैयार हैं। इस तरह की प्रवृत्ति को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि चंद्रकांत दादा पाटील के बयान में अगर एकाधा शब्द इधर-उधर हो गए तो इस पर इतना उपद्रव करने की जरुरत नहीं है। मीडिया को भी इसका ध्यान रखना चाहिए। चंद्रकांत दादा ने इस तरह के बयान के बाद खुलासा करते हुए माफी भी मांग लिया, इसके बाद उन पर स्याही फेंकने की घटना निंदनीय है।
भाजपा प्रवक्ता राम कदम ने कहा कि चंद्रकांत दादा पाटील को अनायाश टार्गेट किया जा रहा है। भाजपा कार्यकर्ता चंद्रकांत दादा पाटील को टार्गेट करने वालों के घर में घुसकर जवाब देने के लिए तैयार है, इस बात का ध्यान विपक्ष को रखना चाहिए।

दरअसल चंद्रकांत दादा पाटील ने औरंगाबाद में एक कार्यक्रम में कहा कि डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर, भाऊ साहेब पाटील, महात्मा फूले जैसे महापुरुषों ने लोगों से भीख मांग कर शिक्षण संस्थाओं का निर्माण किया था। पाटील के इस बयान के बाद महाराष्ट्र के लोगों की जन भावनाएं आहत हुई और आज पुणे स्थित पिंपरी में चंद्रकांत पाटील पर स्याही फेंकी गई। इस मामले में पुलिस ने तीन कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है। हालांकि चंद्रकांत पाटील ने इन तीनों कार्यकर्ताओं को छोड़ देने की अपील पुलिस से की है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post