कन्नौज: अखिलेश यादव और सांसद सुब्रत के बीच वाक युद्ध

कन्नौज । सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव और कन्नौज के सांसद सुब्रत पाठक के बीच चल रहे शब्द युद्ध का इटावा से कन्नौज तक लोग जम कर मज़ा ले रहे हैं। मैनपुरी उपचुनाव में डिंपल यादव की शानदार जीत के बाद शुरू हुआ यह वाक युद्ध इटावा में एक संवाददाता द्वारा सांसद सुब्रत पाठक द्वारा शिवपाल यादव पर की गई टिप्पणी को कोट करते हुए सवाल पूछे जाने से शुरू हुआ था जो अब थमने का नाम नहीं ले रहा।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सैफई से इटावा पहुंचे थे जहां उन्होंने लायन सफारी का जायजा लिया। अखिलेश यादव ने मैनपुरी की जीत पर कहा कि यह जीत नेताजी के कार्यों की जीत है और नेताजी को श्रद्धांजलि हर वर्ग ने दी है ।

भाजपा प्रत्याशी रघुराज सिंह शाक्य के सपा पर धनबल के दुरुपयोग सम्बन्धी एक सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि पैसे का किसने दुरुपयोग किया यह सभी जानते हैं और डिंपल यादव को जनता ने जीत दिलाई है।

कन्नौज से सांसद सुब्रत पाठक के बयान जिस पर उन्होंने कहा था शिवपाल यादव को इसलिए निकाला गया था क्योंकि शिवपाल यादव के साथ अराजक तत्व ज्यादा थे, जवाब देते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि वह अपने आप के गिरेबान में झांके हर समय मुंह में मसाला रखते हैं विकास वह क्या जानें । विकास तो समाजवादी पार्टी ने किया कन्नौज से एक्सप्रेसवे निकाला और बहुत सारे विकास कराये।

अखिलेश के इस बयान पर पलट वार करते हुए कन्नौज सांसद ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से उन्हें बताया कि पान भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग रहा है। इसमें कत्था, चूना, लौंग, सुपारी और कन्नौज के फूलों की खुशबू का प्रयोग होता है। उन्होंने आगे कहा कि आप वोदका पीना छोड़ दें ताकि आपकी बुद्धि में सुधार हो। साँसद ने कहा कि कन्नौज में आपके बहुत किस्से प्रचलित है। स्व. कवि प्रमोद तिवारी के चर्चित अखबार 'हेलो कानपुर' की एक खास कवरेज का भी सुब्रत पाठक ने अपने ट्वीट में उल्लेख किया है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post