हिंदी विभाग की दो दिवसीय संगोष्ठी आयोजित

गुना । हिंदी विभाग द्वारा आयोजित दो दिवसीय संगोष्ठी के अवसर पर 26 दिसंबर 2022 को शासकीय नेहरू स्नातकोत्तर महाविद्यालय अशोकनगर मध्य प्रदेश मैं राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी के अवसर पर अशोकनगर के गौरव क्रांतिकारियों के कवि  कृष्ण शरण द्वारा प्रणीत महाकाव्य सीतायन जो डॉक्टर सतीश चतुर्वेदी द्वारा संपादित किया गया है, डॉ योगिता भार्गव संगोष्ठी आयोजन सचिव की तीन पुस्तकें समय, समाज और साहित्य साहित्य में जनजातीय जीवन दर्शन एवं मन पाखी डॉ शोभा सिंह द्वारा रचित कृति अक्षत खोज संस्कृति की तथा शंकरराव मोरे विद्यार्थी गुना द्वारा लिखित खंडकाव्य मंथरा आदि कृतियों का लोकार्पण किया गया। खंडकाव्य मंथरा पर डॉक्टर सतीश चतुर्वेदी जी ने बताया की मंथरा पर लिखा गया खंडकाव्य हिंदी जगत में प्रथम पुस्तक है जिसमें मंथरा को राष्ट्रभक्त बताते हुए भगवान श्रीराम का मार्गदर्शक बताया गया है ।जो भी इस खंडकाव्य को पड़ेगा उसके हृदय में मंथरा आदर्श रूप में स्थापित हो जाएगी ।डॉक्टर सतीश चतुर्वेदी जी ने कहा कि पुस्तक मुझे पढ़ने को मिली और मंथरा के विषय में मैंने पुस्तक में अपने विचार भी व्यक्त किए हैं यह एक खोजपूर्ण खंडकाव्य जो पठनीय है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post