कांग्रेस विधायक की आपत्तिजनक टिप्पणी, कहा: सीएम मर्द के बच्चे हो तो कलेक्टर को सस्पेंड करो

भोपाल । मध्य प्रदेश में जैसे- जैसे विधानसभा चुनाव का समय नजदीक आता जा रहा है, वैसे वैसे राजनेता जुबानी तीर भी खूब चला रहे हैं। ऐसे में राजनेता किसी भी स्तर पर जाकर बयानबाजी करने से भी नहीं चूक रहे हैं। मध्य प्रदेश की राजनीति में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिल रहा है।

यहां पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता राजा पटेरिया द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेकर दिये गए विवादास्पद बयान का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि सिवनी में कांग्रेस विधायक ने सीएम शिवराज पर अपमानजनक टिप्पणी कर दी है। बरघाट सीट से विधायक अर्जुन सिंह काकोडिय़ा ने सीएम को लेकर कहा, मर्द के बच्चे हो तो एसपी, कलेक्टर और सीसीएफ को सस्पेंड करो।

दरअसल, कांग्रेस विधायक के क्षेत्र बरघाट में बाघ ने एक ग्रामीण की जान ले ली है। इसके बाद काफी बवाल हुआ है। घटना की जानकारी मिलने पर कांग्रेस विधायक अर्जुन सिंह काकोडिय़ा पेंच टाइगर रिजर्व के बफर जोन के धोबी सर्रा सर्किल के गोडेगांव गए थे। यहां उन्होंने बाघ के हमले से जान गंवाने वाले ग्रामीण के परिजनों से मुलाकात की। इसी दौरान अर्जुन सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज को लेकर यह विवादित बयान दिया। विधायक अर्जुन सिंह ने कहा कि ऐसी नौटंकी बंद करें। शिवराज सिंह पूरे जिले में घूम रहे हैं। छोटे-छोटे अधिकारियों को सस्पेंड कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी, मैं हाथ जोडक़र कह रहा हूं, अगर आप मर्द के बच्चे हो तो कलेक्टर, एसपी और सीसीएफ को सस्पेंड करो। बोलते हो ना कि मैं किसान की औलाद हूं, ऐसा है तो आज किसान की सुरक्षा कर...।

उन्होंने कहा कि यह चौथी घटना है, जहां बाघ ने हमारे ग्रामीणों पर हमला किया है। बार-बार फॉरेस्ट वालों को मैं बोल रहा हूं कि फेंसिंग करा दो ताकि वन्यजीव गांव के अंदर ना घुस पाएं परंतु विभाग ध्यान नहीं दे रहा। कांग्रेस विधायक ने कहा कि यहां पर 24 घंटे बिजली चाहिए, दिन और रात में भी बिजली चाहिए। मुझसे जो बन पड़ रहा है, कर रहा हूं, जो जनता कहेगी, मैं उनके साथ हूं। विधायक अर्जुन सिंह काकोडिय़ा ने वन विभाग के अफसरों के लिए भी अपशब्द भी कहे।

उल्लेखनीय है कि गोडेगांव में रविवार को बाघ के हमले में एक ग्रामीण चुन्नीलाल की जान ले ली थी। तीन लोगों को घायल कर दिया था। बाघ को पकड़ने के लिए घटनास्थल पर अमला भी पहुंचा था और उसे पकड़ने की तैयारी कर रहा था। इसी बीच बाघ को जंगल के करीब जाता देखकर ग्रामीणों ने अधिकारियों के वाहनों में तोड़फोड़ शुरू कर दी थी।

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री राजा पटेरिया ने भी प्रधानमंत्री मोदी को लेकर विवादित बयान दिया था। उसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। उसमें पटेरिया कार्यकर्ताओं से यह कहते हुए नजर आ रहे थे कि अगर संविधान बचाना है तो मोदी की हत्या करने को तत्पर रहो।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post