एमपीसीए के सदस्य बने महाआर्यन, वर्तमान कार्यकारिणी को दोबारा मौका

इंदौर । मध्य प्रदेश क्रिकेट संगठन (एमपीसीए) की वार्षिक साधारण सभा की बैठक शनिवार को इंदौर के होलकर स्टेडियम में हुई, जिसमें आगामी तीन वर्ष के लिए नए पदाधिकारियों का निर्विरोध निर्वाचन हुआ। इसमें केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महाआर्यमन सहित छह नए सदस्य बनाए गए हैं। वर्तमान कार्यकारिणी को ही दोबारा मौका दिया गया है।

अभिलाष खांडेकर एमपीसीए के अध्यक्ष और संजीव राव सचिव की जिम्मेदारी संभालते रहेंगे। बैठक एक घंटे में समाप्त हो गई। बैठक के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मध्य प्रदेश की क्रिकेट टीम बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रही है। हमने रणजी ट्राफी जीतकर इतिहास रचा है। प्रदेश स्तर पर क्रिकेट के विकास के लिए जिसतरह के कार्य हो रहे हैं, अब उन्हें जिला और ग्रामीण स्तर तक ले जाने की योजना है। इसके लिए आगामी दिनों में कार्य योजना तैयार की जाएगी। एमपीसीए में सिंधिया के पुत्र महाआर्यमन को सदस्यता दिए जाने के संबंध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा- हमारे संगठन में नए सदस्य प्रतिवर्ष शामिल होते हैं। यह एक नियमित प्रक्रिया है।

नए सदस्यों को मिली हरी झंडी - मैनेजिंग कमेटी ने छह नए सदस्यों को हरी झंडी दी है। इस बार खेल कोटे से पूर्व रणजी क्रिकेटर देवांग कपाड़िया, सचिन धोलपुरे और उन्मेखा तारे को सदस्यता दी गई। वहीं, सामान्य कोटे से शहडोल संभागीय क्रिकेट संगठन के सचिव अजय द्विवेगी, महाआर्यमन सिंधिया और संजय सोडानी को सदस्य बनाया गया। महानआर्यमन को इसी साल ग्वालियर संभागीय क्रिकेट संगठन का उपाध्यक्ष भी चुना गया था।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post