पुरानी पेंशन, वरिष्ठता बहाली सहित अन्य संवर्ग की मांगों को पूरा करे सरकार : कमलनाथ

भोपाल । प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पुरानी पेंशन एवं वरिष्ठता बहाली महासंघ मध्यप्रदेश एवं राज्य शिक्षक कांग्रेस मध्यप्रदेश द्वारा दिये गये ज्ञापन में शामिल मांगों का उल्लेख करते हुए प्रदेश के मुखिया शिवराजसिंह चौहान को पत्र लिखकर उनकी मांगों का निराकरण किये जाने की मांग की है। 

श्री कमलनाथ ने पत्र में निम्न बिंदुओं को शामिल किया हैं, जिसमें:- 
1) 01 जुलाई, 2018 से राज्य शिक्षा सेवा में नियुक्त अध्यापक संवर्ग को प्रथम नियुक्ति दिनांक से समस्त लाभों के लिए वरिष्ठता का लाभ दिया जाये एवं नियुक्ति आदेश के स्थान पर संविलियन आदेश जारी किया जाये।
2) 12 वर्ष की सेवा अवधि पूर्ण करने वाले अध्यापक/ शिक्षकों को क्रमोन्नति के लाभ हेतु आदेश जारी किये जाये।
3) संवर्ग को प्रथम नियुक्ति दिनांक से समस्त सुविधायें प्रदान की जायें तथा क्रमोन्नति, पदोन्नति, ग्रेच्युटी आदि में सेवा अवधि की गणना का लाभ दिया जाये।
4) पुरानी पेंशन योजना को बहाल किया जाये एवं नियुक्ति दिनांक से सेवा अवधि मान्य की जाये।
5) अन्य विभागों के समान शिक्षा विभाग के कर्मचारियों को भी सशर्त पदोन्नति का लाभ दिया जाये।
6) अध्यापक संवर्ग हेतु अनुकम्पा नियुक्ति हेतु नियमों में छूट प्रदान करते हुए अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान की जाये एवं नियुक्ति उपरांत विशेष अभियान में डी.एड. एवं बी.एड. कराया जाये।
7) अध्यापक/ नवीन शिक्षक संवर्ग को कैशलेस बीमा योजना का लाभ दिया जाये एवं उनके मेडिक्लेम का शीघ्र भुगतान कराया जाये।
श्री नाथ ने पत्र में लिखा है कि अध्यापक संवर्गीय शिक्षकों की उपरोक्त मांगों का प्रभावी एवं सकारात्मक निराकरण किया जाना अत्यन्त आवश्यक है। विभिन्न शिक्षक संघों के द्वारा समय-समय पर ज्ञापन देकर एवं विरोध प्रदर्शन कर अपनी मांगों को शासन के समक्ष प्रस्तुत किया गया है। उक्त मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए सकारात्मक निराकरण की दिशा में पहल की जाना चाहिए। ताकि शिक्षक वर्ग मध्यप्रदेश के भविष्य निर्माण में अपना सक्रिय योगदान दे सकें।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post