आगनबाड़ी और स्कूल भवनों को सुदुढ़ करने के लिए नवाचार करें : संभागायुक्त

भोपाल । कमिश्नर मालसिंह भयड़िया ने संभाग के सभी जिलों के श्रम पदाधिकारियों से कहा कि वे अपने-अपने क्षेत्र में औद्योगिक केन्द्रों से लगे आगनबाड़ी और विद्यालय भवनों को सुदुढ़ बनाने के लिए नवाचार करें। श्री भयड़िया मंगलवार को कमिश्नर कार्यालय के सभाकक्ष में श्रम विभाग के कार्यों की संभाग स्तरीय समीक्षा कर रहे थे।

 कमिश्नर ने सीहोर जिले में भवन एवं अन्य संनिर्माण योजना के क्रियान्वयन में और सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने संबल योजना और निर्माण कर्मकार योजना में प्राप्त आवेदनों में पंजीयन और सहायता योजनाओं का लाभ 25 दिसंबर तक सुनिश्चित करने की समय अवधि भी निर्धारित की है। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि ग्राम पंचायतों का समूह बनाकर शिविर लगाएं जिससे एक भी पात्र परिवार पंजीयन और योजना के लाभ से वंचित नहीं रहे।

 कमिश्नर ने बैठक के दौरान निर्माण एजेंसियों से उपकर वसूली की समीक्षा भी की। उन्होंने निर्देश दिए है कि श्रम निरीक्षक जनपद और नगर पालिका के अधिकारियों से समन्वय कर सभी निर्माण कार्यों में लगी एजेंसियों का उपकर निर्धारण कर जमा भी कराएं। उन्होंने उद्योगों की सीएसआर मद का उपयोग आगनबाड़ी और स्कूल भवनों के सुदुढ़ीकरण में करने के लिए योजना बनाकर 10 दिन में प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। 
समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार मंडल एवं संबल 2.0 योजना के अंतर्गत अधिक से अधिक संख्या में पात्र हितग्राही के पंजीयन एवं पात्र हितग्राहियों को योजना के अंतर्गत लाभ प्रदाय किए जाए। कमिश्नर ने कहा कि जिला प्रशासन एवं पदाभिहित अधिकारी से समंवय कर नियत समयावधि में लाभ दिया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान की प्रगति की समीक्षा भी की। बैठक में संयुक्त आयुक्त विकास सुदर्शन कुमार सोनी, उपायुक्त श्रम जासमीन सितारा और सभी जिलों के श्रम अधिकारी तथा निरीक्षक उपस्थित थे।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post