सीहोर ने दो दिवसीय विज्ञान मेला आरंभ

बच्चे बने साइंटिस्ट, मॉडल बनाए, क्विज में समझाया साइंस
शुक्रवार को दिखाई जाएंगी विज्ञान फिल्में

सीहोर। शहर के लक्ष्मीबाई कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल में आज से दो दिवसीय विज्ञान मेला प्रारंभ हुआ। मेले में विद्यार्थियों ने विज्ञान और तकनीकी पर आधारित मॉडल प्रदर्शित किए और इनके जरिए दैनिक जीवन में समाहित विज्ञान से लेकर देश-विदेश में वैज्ञानिक प्रयोगों को सरल भाषा में समझाया। मेले में बच्चों ने विज्ञान पर आधारित खेल खेले, प्रतियोगिताआें में भाग लिया और विज्ञान के प्रयोग किए। इस मेले में शहर के दस स्कूलों के कक्षा 6 से 12वीं के छात्र-छात्राएं, शिक्षक और विशेषज्ञ भाग ले रहे हैं।
मेले की समन्वयक पिंकी सिरवैया ने बताया कि विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संचार परिषद भारत सरकार के सहयोग से सर्च एंड रिसर्च डवलपमेंट सोसायटी भोपाल द्वारा मेले का आयोजन किया गया है। मेले का शुभारंभ शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय के प्राचार्य आर के बांगरे, एमएलबी गर्ल्स स्कूल की प्राचार्य डॉ. हेमलता राठौर, संर्च एंड रिसर्च की अध्यक्ष डॉ. मोनिका जैन, डॉ. राजीव जैन और कार्यक्रम समन्वयक पिंकी सिरवैयां ने किया।

इस अवसर पर अतिथियों ने कहा कि भारत का संविधान अपने नागरिकों से वैज्ञानिक सोच रखने की अपेक्षा करता है। संविधान में दिए गए मूल अधिकार के साथ-साथ कर्त्तव्यां के प्रति भी हमें जागरूक रहना है। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों से बच्चों में विज्ञान के प्रति दिलचस्पी बढ़ती है और वे वैज्ञानिक तथ्यों को लेकर उनके मन में जिज्ञासा पैदा होती है। यही जिज्ञासा उन्हें विज्ञान और तकनीक के क्षेत्र में बड़े काम करने के लिए प्रेरित करती है।

*विज्ञान मॉडल में बच्चों ने दिखाया हुनर*
मेले में लगाए गए स्टॉल में विद्यार्थियों ने विभिन्न विषयों पर मॉडल तैयार कर उन्हें प्रस्तुत किया। इनमें सोलर सिस्टम, ज्वालामुखी के अवशेषों के उपयोग, पर्यावरण संरक्षण, औद्योगिक प्रदूषण, जल संरचनाओं की सुरक्षा, मानव शरीर की संरचना, संक्रामक रोग आदि विषयों पर रोचक मॉडल के जरिए इनके वैज्ञानिक तथ्यों की व्याख्या की।

*साइंस क्विज में जीते इनाम*
मेले में विद्यार्थियों के कई तरह की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। वैज्ञानिकों के नाम से बनाए गए विद्यार्थियों के समूहों के बीच सामान्य विज्ञान से जुड़े प्रश्नों से लेकर "कौन बनेगा विज्ञान का सबसे बड़ा खिलाड़ी" विषयगत सवालों की प्रतियोगिता आयोजित की गई। विजयी समूहों को मेडल देकर पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में सभी स्कूल के शिक्षको और विद्यार्थियों ने भाग लिया।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post