भाजपा मंडल अध्यक्ष को ही देना पड़ रही है रिश्वत: संगीता शर्मा

सांसों की तरह है भ्रष्टाचार, सांसों से जीवन चलता है। और भाजपा सरकार का भ्रष्टाचार से सिस्टम चलता है: संगीता शर्मा

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग की उपाध्यक्ष संगीता शर्मा ने कहा है कि भाजपा मध्यप्रदेश के विकास माडल की बात करती है, लेकिन उसी पार्टी के मंडल अध्यक्ष को रिश्वत देना पड़ रही है। यह मध्यप्रदेश का भ्रष्टाचार माडल है, जहां कोई काम बिना रिश्वत के नहीं होता। तबादला-पोस्टिंग से लेकर किसानों को खाद-बीज भी बिना लेन देन के नहीं होता। 
सुश्री शर्मा ने कहा है कि उमरिया जिले के पिपरिया के भाजपा मंडल अध्यक्ष ने कलेक्टर को पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने साफ कहा है कि धान खरीदी के लिए उन्हें पैसे देने पड़े तब उनकी धान खरीदी गई। मुख्यमंत्री सुनें , भाजपा मंडल अध्यक्ष को धान खरीदी केंद्र में रिश्वत देना पड़ी, जबकि वे भाजपा के स्थापित नेता है जनजाति कल्याण मंत्री मीना सिंह के खास व्यक्ति है। उन्होंने रिश्वत के रूप में दी गई राशि को वापस प्राप्त करने के लिए जिला कलेक्टर से गुहार लगाई और लिखा-कलेक्टर महोदय जब संगठन के मुखिया को ही रिश्वत देनी पड़ रही है तब आम जनमानस का क्या हाल होगा? प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग की उपाध्यक्ष संगीता शर्मा ने कहा है मुख्यमंत्री आए दिन भाजपा नेता एवं पदाधिकारियों द्वारा भ्रष्टाचार की पोल खोली जा रही है कुछ दिन पूर्व ही पूर्वमंत्री दीपक जोशी ने भी प्रधानमंत्री आवास योजना में भी आर्थिक अनियमितता को लेकर प्रधानमंत्री जी को पत्र लिखा था।
 मुख्यमंत्री जी आपकी 18 सालों की भाजपा सरकार में प्रदेश की जनता को रिश्वत दे देकर शासकीय कार्य करवाना पड़ रहा है। जनता के क्या हाल हो रहे होंगे यह कभी अपने कभी सोचा है?


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post