बिहार में जहरीली शराब से अब तक 33 की मौत

सिविल सर्जन ने स्वीकारा, मौत का कारण जहरीली शराब

-एसपी बोले, संदिग्ध अवस्था में हुईं मौतें

पटना । बिहार के सारण जिले में जहरीली शराब पीने से मंगलवार देर रात से बुधवार रात तक मरने वालों की संख्या 33 हो गई है। इतनी बड़ी संख्या में हुईं मौतों से सड़क से लेकर सदन तक हंगामा मचा है। मृतकों के परिजनों का दावा है कि सभी की मौत जहरीली शराब पीने से हुई है।

छपरा सदर अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ सागर दुलाल सिन्हा ने बातचीत में बताया कि सभी की मौत जहरीली शराब से होने की बात ही दिख रही है। उन्होंने कहा कि हिस्ट्री से ऐसा ही प्रतीत हो रहा है कि सभी ने जहरीली शराब पी थी। उन्होंने मौत की मुख्य वजह समय पर अस्पताल न पहुंचना बताया है। उन्होंने कहा कि जब मरीजों की हालात नाजुक हो रही है तो परिजन अस्पताल लेकर पहुंच रहे हैं। उन्होंने मृतकों की सही संख्या पर कहा कि अभी तक पांच का पोस्टमार्टम हो चुका है और अन्य पांच का पोस्टमार्टम किया जा रहा है।

एसपी एस कुमार के मुताबिक ये सभी मौतें संदिग्ध हालात में हुई हैं। कुछ और लोगों का अलग-अलग जगहों पर इलाज चल रहा है। मढौरा डीएसपी ने मौके पर पहुंचकर छानबीन शुरू कर दी है। स्थानीय लोगों के मुताबिक मशरख और इसुआपुर इलाके में देसी शराब की बड़ी खेप पहुंची थी, जिसे 50 से ज्यादा लोगों ने पिया था। सभी ने 20-20 रुपये में देसी शराब के पाउच खरीदकर पीया था। सभी लोग एक किलोमीटर के दायरे में आसपास रहते हैं।

परिजनों के मुताबिक सभी ने शराब पी थी। इसके बाद उल्टी-दस्त की शिकायत होने लगी। थोड़ी देर में आंखों से दिखाई देना बंद हो गया। जैसे ही घर लौटे तो कुछ देर बाद तबीयत बिगड़ने लगी। अचानक से तेज बुखार चढ़ गया। उल्टियां होने लगीं और पेट दर्द की शिकायत होने लगी। अस्पताल ले जाने के दौरान ही मंगलवार की रात पांच लोगों की मौत हो गई थी। बाकी की मौत बुधवार को इलाज के दौरान हुई है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post