23 को दिलाई जाएगी सुशासन की शपथ

भोपाल । पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा स्थापित सुशासन के उच्चतम मापदण्डों के महत्व को प्रतिपादित करते हुए उनके जन्म दिवस 25 दिसम्बर के एक दिवस पूर्व 24 दिसंबर को सुशासन दिवस के रूप में मनाया जाता है। 24 दिसम्बर को शासकीय अवकाश होने के कारण 23 दिसम्बर को प्रातः 11 बजे सभी शासकीय कार्यालयों में अधिकारियों, कर्मचारियों को सुशासन के उच्चतम मापदण्डों को स्थापित करने के लिए सदैव संकल्पित रहने, शासन को अधिक पारदर्शी, सहभागी, जनकल्याण केन्द्रित तथा जवाबदेह बनाने के लिए हर संभव प्रयास करने एवं नागरिक के जीवन स्तर में सुधार लाने के लक्ष्य को पाने के लिए सदैव तत्पर रहने की शपथ दिलाई जाएगी।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post