यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने दो डीएससीआई एआईएसएस अवार्ड - 2022 जीते :

 बेस्ट सेक्युरिटी प्रेक्टिसेस (बीएफएसआई) और सेक्युरिटी लीडर ऑफ द ईयर (बीएफएसआई)
मुंबई । भारत के सार्वजनिक क्षेत्र के अग्रणी बैंकों में से एक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (बैंक), ने गुरुग्राम में  23 दिसंबर 2022 को आयोजित "वार्षिक सूचना सुरक्षा सम्मेलन (एआईएसएस - 2022)” में साइबर सुरक्षा और निजता में किए गए सर्वश्रेष्ठ कार्य के सम्मान स्वरूप, बीएफएसआई भाग के तहत, डीएससीआई एक्सीलेंस अवार्ड्स 2022 में “बेस्‍ट सेक्‍यूरिटी प्रैक्टिसेस इन बीएफएसआई" और “सेक्‍यूरिटी लीडर ऑफ द ईयर बीएफएसआई” श्रेणियों के तहत दो प्रतिष्ठित पुरस्कार जीते हैं.
सुश्री ए. मणिमेखलै, प्रबंध निदेशक एवं सीईओ, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने कहा, "यह पुरस्कार यूनियन बैंक ऑफ इंडिया को एक प्रौद्योगिकी संचालित साइबर रेसिलिएंट और ग्राहक केंद्रित बैंक बनाने के लिए बैंक द्वारा अपने सभी हितधारकों के बीच मजबूत साइबर सुरक्षा संस्कृति निर्माण की दिशा में किए गए विभिन्न कार्यप्रणालियों के प्रति निरंतर प्रयासों का सम्मान है.”
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया विभिन्न डिजिटल उत्पादों की पेशकश करते हुए ग्राहकों को “श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ” सेवा देने के लिए नई तकनीकों को अपनाने में हमेशा अग्रणी रहा है. बैंक ने अपनी साइबर सुरक्षा कार्यनीति हेतु साइबर सुरक्षा उत्कृष्टता केंद्र( सीसीओई), स्वचालित भेद्यता मूल्यांकन और पेनेट्रेशन टेस्टिंग लैब, एथिकल हैकिंग लैब की स्थापना, हैदराबाद में साइबर सुरक्षा क्षमता निर्माण केंद्र के अंतर्गत बृहत साइबर सुरक्षा शिक्षा एवं जागरूकता कार्यक्रमों का विकास और डिज़ाइन करते हुए कई पहल की हैं.
बैंक ने विभिन्न जागरूकता पहलों के माध्यम से सभी हितधारकों के बीच मजबूत साइबर सुरक्षा संस्कृति का निर्माण करने और इसे सुदृढ़ बनाने के लिए उद्योग और शिक्षा जगत के साथ मिलकर काम करता है.

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post