GTS: 2022 भारत का उदय प्रौद्योगिकी के उदय से जुड़ा है: विदेश मंत्री एस.जयशंकर


नई दिल्ली । ग्लोबल टेक्नोलॉजी समिट 2022 का 7वां संस्करण, 29 नवंबर (मंगलवार) से नई दिल्ली में शुरु हो गया है। यह तीन दिवसीय शिखर सम्मेलन 29 नवंबर से 1 दिसंबर 2022 तक हाइब्रिड प्रारूप में चल रहा है। यह वैश्विक प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन 2022 'जियोपॉलिटिक्स ऑफ टेक्नोलॉजी' विषय पर आयोजित किया जा रहा है। ग्लोबल टेक्नोलॉजी समिट के इस वार्षिक कार्यक्रम की सह-मेजबानी विदेश मंत्रालय और कार्नेगी इंडिया द्वारा की जा रही है।

ग्लोबल टेक्नोलॉजी सम्मेलन 2022 की शुरुआत

ग्लोबल टेक्नोलॉजी समिट 2022 कार्यक्रम की शुरुआत विदेश मंत्री एस.जयशंकर ने नई दिल्ली में किया। इस दौरान विदेश मंत्री ने संबोधित करते हुए कहा कि भारत का उदय भारतीय प्रौद्योगिकी के उदय से गहराई से जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि यदि हम भारत की भू-राजनीतिक स्थिति को देखते हैं, तो यह राजनीति, ऊर्जा, अर्थशास्त्र का शुद्ध मूल्यांकन होना चाहिए, लेकिन तेजी से जहां हमारे तकनीकी हित निहित हैं।

डेटा अब राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय: विदेश मंत्री

इस कार्यक्रम में विदेश मंत्री ने कहा "हमारा डेटा कहां जा रहा है यह अब व्यापार और अर्थशास्त्र का मामला नहीं है, बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय है। विदेश मंत्री ने कहा कि दुनिया में हर चीज को हथियार बनाया जा रहा है, मुझे अपना दृष्टिकोण बदलना होगा जहां सभी को अपने हितों के प्रति सुरक्षात्मक होना चाहिए।"
इसके साथ ही मंत्री ने कहा कि थीम का चयन सही समय पर किया गया है क्योंकि आज प्रौद्योगिकी भू-राजनीति के केंद्र में है। सभी देशों ने अपने राष्ट्रीय सुरक्षा निर्णयों को तैयार किया है और प्रौद्योगिकी को लागू करने से उन्हें किस तरह का प्रभाव मिलेगा।

वैश्विक प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन में किन मुद्दों पर होगी चर्चा

ग्लोबल टेक्नोलॉजी समिट 2022 में टेक्नोलॉजी पॉलिसी, डिजिटल इन्फ्रास्ट्रक्चर, सेमीकंडक्टर, क्रॉस बॉर्डर पेमेंट सिस्टम, साइबर सिक्योरिटी ऑफ इंटरनेट इंफ्रास्ट्रक्चर, डिजिटल पब्लिक गुड्स और भारत की G20 प्रेसीडेंसी समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी। इस साल भारत G20 की अध्यक्षता करने जा रहा है, इसलिए यह सम्मेलन और महत्वपूर्ण है। सम्मेलन में पैनल्स, की-नोट एड्रेस और सरकार, इंडस्ट्री, एकेडमिक्स और सिविल सोसायटी की तरफ से प्रेजेंटेशन भी दिया जाएगा।

शामिल होने वाले देश

वैश्विक प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन 2022 में अमेरिका, सिंगापुर, जापान, नाइजीरिया, ब्राजील, भूटान, यूरोपीय संघ और अन्य देशों के मंत्री और वरिष्ठ सरकारी अधिकारी भाग ले रहे हैं। साथ ही ग्लोबल टेक्नोलॉजी समिट 2022 में 50 से अधिक पैनल चर्चाओं, मुख्य भाषणों और अन्य कार्यक्रमों में 100 से अधिक वक्ता भी हिस्सा ले रहे हैं। सम्मेलन में इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स, बिजनेस लीडर्स, नीति निर्माताओं और शिक्षाविदों को सुनने का मौका मिलेगा।

बता दें कि ग्लोबल टेक्नोलॉजी समिट 2022 में भाग लेने के लिए दुनिया भर से करीब 5000 से अधिक प्रतिभागियों ने पंजीकरण कराया है। साथ ही सम्मेलन में पब्लिक बेवसाइट Welcome to Global Technology Summit पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद ग्लोबल टेक्नोलॉजी में वर्चुअली शामिल हो सकती है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post