शिल्प गुरू और राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित हुए मध्यप्रदेश के शिल्पकार

भोपाल । मध्यप्रदेश के धार जिले के मोहम्मद यूसुफ खत्री को बाघ प्रिंट हस्त-शिल्प विरासत के संरक्षण के लिए वर्ष 2017 का शिल्प गुरू पुरस्कार प्रदान किया गया है। विज्ञान भवन दिल्ली में उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ और केंद्रीय वस्त्र मंत्री पीयूष गोयल ने उन्हें स्वर्ण पदक और ताम्र पत्र से सम्मानित किया। समारोह में वर्ष 2017, 2018 और 2019 के शिल्पगुरू पुरस्कार और राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किए गए। 
धार जिले के मोहम्मद नसीर को साड़ी हस्त-ब्लॉक प्रिंटिंग शिल्प और मुबारिक खत्री को बाँस दरी पर्दों पर हस्त ब्लॉक प्रिंट तथा नीमच जिले के स्व. श्री प्रदीप झरिया और श्री पवन कुमार झरिया को विलुप्त तारापुर हस्त-छप्पा छपाई कला के लिए वर्ष 2017 के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। स्व. श्री प्रदीप झरिया का पुरस्कार उनकी धर्मपत्नी श्रीमती अनुसुइया झरिया ने ग्रहण किया। धार जिले के श्री मोहम्मद बिलाल खत्री को बाँस चटाई हस्त-ब्लॉक प्रिंट के लिए वर्ष 2018 के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय वस्त्र मंत्री पीयूष गोयल ने राष्ट्रीय पुरस्कार विजेताओं को ताम्र पत्र प्रदान किया।
विज्ञान भवन दिल्ली में पुरस्कार विजेता शिल्पकारों की हस्त-कला के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए प्रदर्शनी लगाई गई है। अगले एक सप्ताह तक पुरस्कृत शिल्पकारों की हस्त-कला का प्रदर्शन दिल्ली के कला संग्रहालय में भी किया जाएगा।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post