तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के लिए 573.13 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को मिली मंजूरी


नई दिल्ली । केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने तेलंगाना और आन्ध्रप्रदेश के लिए 573.13 करोड़ रुपये की सड़क परियोजनाओं को मंजूरी दी है। केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। उन्होनें कहा कि तेलंगाना के मुलुगु जिले में NH-163 के हैदराबाद-भूपालपट्टनम सेक्शन में 136.22 करोड़ रुपए की लागत से मौजूदा दो-लेन की सड़क को दो-लेन के पेव्ड शोल्डर तक चौड़ा करने की मंजूरी दे दी गई है। गडकरी ने कहा कि एनएच-167k पर पेव्ड शोल्डर के साथ दो को चार लेन किए जाने को ईपीसी मोड पर 436.91 करोड़ रुपये की कुल लागत से मंजूरी दी गई है। इसमें तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में नागरकुर्नूल जिले में कृष्णा नदी पर प्रतिष्ठित पुल भी शामिल हैं।

वामपंथी उग्रवाद गतिविधियों पर कमी होगी

तेलंगाना के मुलुगु जिले में NH-163 के हैदराबाद-भूपालपट्टनम सेक्शन में दो-लेन की सड़क चौड़ी होने पर वामपंथी उग्रवाद गतिविधियों में कमी आएगी।
केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि मुलुगु जिला एक वामपंथी उग्रवाद प्रभावित जिला है और इस खंड के विकास से सरकार को वामपंथी उग्रवाद गतिविधियों पर नियंत्रण रखने में मदद मिलेगी। साथ ही मंत्री ने बताया है कि इस खंड का विकास होने से तेलंगाना और छत्तीसगढ़ के बीच अंतरराज्यीय संपर्क में भी सुधार होगा।

 

पर्यटन और व्यापार को मिलेगा बढ़ावा

यह परियोजनाएं तेलंगाना और आन्ध्रप्रदेश में प्रमुख पर्यटन स्थलों जैसे लकनावरम झील और बोगोथा झरने को जोड़ती है, इसलिए इसके विकास होने से यहां पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि कोल्लापुर में स्वीकृत प्रतिष्ठित पुल दोनों राज्यों के लिए प्रवेश द्वार होगा और इससे पर्यटन को बढ़ावा देने में मदद होगी। उन्होंने कहा कि एनएच-167k हैदराबाद/कलवाकुर्थी और तिरुपति, नंद्याला/चेन्नई जैसे महत्वपूर्ण स्थलों के बीच की दूरी को लगभग 80 किलोमीटर कम कर देगा। साथ ही वर्तमान में एनएच-44 का अनुसरण करने वाला यातायात पूरा होने के बाद एनएच-167k पर चला जाएगा। मंत्री ने कहा कि नंद्याला कृषि उत्पादों और वन उत्पादों के लिए एक महत्वपूर्ण व्यापारिक केंद्र है क्योंकि यह नल्लामाला वन के निकट है। इससे इन स्थानों पर व्यापार की गतिविधियों में सुविधा होगी।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post