पूर्व मंत्री पटवारी का सरकार पर हमला, शिवराज ने किसानों का चरित्र ही बदल दिया


भोपाल। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आज किसानों के समर्थन में पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने  पत्रकारों से कृषि कानून को लेकर बयान दिया। पटवारी ने कहा कि भाजपा हमेशा बड़े लोगों की समर्थित पार्टी रही है। उनका आम आदमी से कोई सरोकार नहीं है । आगे उन्होंने कहा कि
वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री ने समर्थन मूल्य पर खरीदारी करने का एलान किया था।2014 में पीएम नरेंद्र मोदी ने वादा किया था कि वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी कर देंगे। सीएम शिवराज सिंह चौहान किसान को भगवान का दर्जा देते थे। अब शिवराज किसानों को लेकर अपनी सोच बदल दिए। कृषि मंत्री किसान संगठन को देशद्रोही कहते है। एक मंत्री चीन का सहयोगी बताया है। शिवराज सरकार के एक मंत्री किसानों को चोर बोलते है।
शिवराज ने किसानों का चरित्र ही बदल दिया। पटवारी ने सीएम शिवराज को चुनौती देते हुए कहा कि  प्रदेश में 259 मंडी है। 47 मंडी बन्द है। 143 मंडियों में व्यापार प्रभावित हो गया है। जो हाल परिवहन का हुआ था अब वही हाल मंडियों का होगा। समर्थन मूल्य पर प्रदेश में नहीं हो रही है खरीदारी।  गेंहू का समर्थन मूल्य 1975 रुपये है लेकिन प्रदेश के किसी भी मंडी में गेंहू की खरीदारी समर्थन मूल्य पर नहीं हुआ है। यही हाल मूंग, मक्का और धान की है।
मध्यप्रदेश में समर्थन मूल्य पर खरीदारी नहीं होती है। भाजपा अपने कार्यकर्ताओं को बुलाकर किसान सम्मेलन कराती है। पीएम नरेंद्र मोदी ने देश का भरोसा तोड़ दिया। पेट्रोल डीजल पर भाजपा की चुप्पी अब समझ से परे है। मोदी पर आज देश कैसे भरोसा करेगा। क्योंकि मोदी ने जो देशवासियों से वादा किया था वह पूरा नहीं हो सका। ऐसे में कृषि कानून को लेकर देशवासी मोदी सरकार पर कैसे भरोसा कर सकता है।
भाजपा को यह बात अच्छी तरह मालूम होना चाहिए कि विपक्ष भी इसी देश का हिस्सा है। कृषि कानून किसानों के अलावा आम उपभोक्ताओं को भी प्रभावित करेगा

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post