गौशालाएं आस्था के केंद्र के साथ आत्मनिर्भर हो : कियावत


 संभागायुक्त ने राजगढ़ की गौशालाओं और स्वास्थ्य केंद्र का जायज़ा लिया

भोपाल । संभागायुक्त कवींद्र कियावत ने राजगढ़ जिले के ग्रामीण क्षेत्र का सघन दौरा कर गौशालाओं और उप स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण किया । उन्होंने गौशालाओं के निरीक्षण के दौरान निर्देश दिए कि गौशालाओं को लोगों की आस्था से जोड़कर आत्मनिर्भर बनाएं । इस दौरान कलेक्टर नीरज कुमार सिंह तथा अन्य अधिकारी मौजूद रहे ।
 श्री कियावत ने सर्वप्रथम उदनखेड़ी गौशाला का निरीक्षण किया । यहां पर उन्होंने गायों के आश्रय स्थल, भूसा भंडार पानी का स्रोत चारागाह आदि का निरीक्षण किया । उन्होंने ग्राम पंचायत सरपंच को समझाइश दी कि गौशाला का संचालन इस प्रकार करें कि आगे आने वाले समय में गौशाला आत्मनिर्भर बन जाए । उन्होंने गौशाला की 5 हेक्टेयर जमीन में मक्का बोने, गोबर का सही उपयोग गौ कास्ठ गोबर खाद आदि बनाने में करने की समझाइश दी । उन्होंने मौके पर उपस्थित पशु चिकित्सक से पशुओं के स्वास्थ्य की जानकारी ली सरपंच ने बताया कि गौशाला में 115 गाय हैं सभी स्वस्थ हैं व्यवस्था ठीक है ।
उप स्वास्थ्य केंद्र उदनखेड़ी का निरीक्षण 

 संभागायुक्त द्वारा उदनखेड़ी उप स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण के दौरान उपस्थित आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एएनएम आदि से संस्थागत प्रसव, बच्चों में कुपोषण आदि की जानकारी ली । उन्होंने कहा कि कुपोषण मिटाने के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व्यक्तिगत रुचि लेकर कुपोषित बच्चे की इस प्रकार देखभाल करें जैसे कि वह स्वयं के बच्चे की करती हैं। उन्होंने संस्थागत प्रसव बढ़ाने के लिए कार्य करने के निर्देश दिए । संभागायुक्त द्वारा भेसवा माता पहुंच कर वहां पर संचालित गौशाला तथा दूसरी निर्माणाधीन गोशाला का निरीक्षण किया ।पहली गौशाला में 100 पशु मौजूद थे। उन्होंने सरपंच से पशुओं के चारागाह के संबंध में बात की ।उन्होंने कहा कि ग्राम वासियों से इस आशय के संकल्प पत्र भरवाए जाएं कि वह फसल के समय एक -एक ट्राली भूसा देंगे। इस प्रकार गौशाला आत्मनिर्भर और लोगों की आस्था का केंद्र बनेंगी ।

 उप स्वास्थ्य केंद्र भेसवा माता का निरीक्षण 

 संभागायुक्त द्वारा उप स्वास्थ्य केंद्र भेसवा माता का भी निरीक्षण किया निरीक्षण के दौरान उन्होंने एएनएम और सी एच ओ को मुख्यालय पर रहने के निर्देश दिए।

 उप स्वास्थ्य केंद्र संडावता का निरीक्षण 

 संभागायुक्त द्वारा उप स्वास्थ्य केंद्र संडावता का निरीक्षण कर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने एएनएम सावित्री भारती और सी एच ओ सुषमा मेडा को संडावता में संस्थागत प्रसव प्रारंभ होने के लिए शाबाशी दी। उन्होंने कहा कि सभी स्टाफ मौके पर रहकर नॉर्मल डिलीवरी संडावता में ही कराएं जिससे आसपास के लोगों को संस्थागत प्रसव की सुविधा मिल सके ।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post