सोनालीका पेश करते है 'टाइगर इलेक्ट्रिक' - भारत का पहला फील्ड रेडी इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर; बुकिंग शुरू

सोनालीका, भारत का सबसे तेज़ी से बढ़ता ट्रैक्टर ब्रांड, के नवीनतम टेक्नोलॉजी वाले ट्रैक्टर को यूरोप में डिज़ाइन किया गया है | यह बेहतरीन पॉवर, घर पर आसान चार्जिंग, ज़ीरो कार्बन फुटप्रिंट के साथ-साथ भारतीय किसानों को प्रदुषण रहित खेती के लिए बनाया गया है जो की पर्यावरण के लिए भी लाभदायक है |

नई दिल्ली । एग्री इनोवेशन में एक नए युग की शुरुआत करते हुए, भारत के सबसे तेज़ी से बढ़ते ट्रैक्टर ब्रांड और देश से नंबर 1 निर्यात ब्रांड, जो यूरोप, अमेरिका, अफ्रीका और 130 से अधिक देशों में उपस्थित है, सोनालीका ट्रैक्टर ने भारत के पहले फील्ड रेडी ट्रैक्टर ‘टाइगर इलेक्ट्रिक’ को पेश किया है | किसान हितैषी ब्रांड ने इस उच्च टेक्नोलॉजी से सुसज्जित ट्रैक्टर को यूरोप में डिज़ाइन किया और भारत में तैयार किया है। टाइगर इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर का निर्माण दुनिया भर में अधिक पावर के साथ-साथ एमिशन फ्री और शोर रहित खेती के लिए हुआ है। लीडिंग अग्रि एवोलुशन के अपने लक्ष्य के करीब आते हुए, सोनालीका ट्रैक्टर दुनिया भर में अपने कस्टमाइज्ड और टेक्नोलॉजी से लैस प्रोडक्ट्स के साथ कृषि मशीनीकरण को आगे ले जा रहे है, जो 'मेक इन इंडिया' ही नही 'मेड फॉर द वर्ल्ड' का भी एक सही उदहारण है।
ट्रैक्टर उद्योग में एक नया तकनीकी बेंचमार्क बनाते हुए, भारत का पहला फील्ड रेडी इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर, सोनालीका टाइगर इलेक्ट्रिक एक अत्याधुनिक IP67 अनुरूप 25.5 kW नेचुरल कूलिंग कॉम्पैक्ट बैटरी द्वारा संचालित है जो सदीयो से चले आ रहे डीजल के उपयोग की तुलना में 1/4th ऑपरेशनल कॉस्ट सुनिश्चित करता है यानि कम ख़र्च में ज़्यादा कमाई। टाइगर इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर की अत्याधुनिक और उच्च स्तरीय बैटरी को पूरी तरह से 10 घंटे में एक सामान्य घर के चार्जिंग पॉइंट के साथ चार्ज किया जा सकता है, तथा यह ईंधन भरने के लिए लगातार पेट्रोल पंप की यात्रा को भी कम करता है। एक विकल्प के रूप में, कंपनी इस ट्रेक्टर के साथ एक फास्ट चार्जिंग सिस्टम भी दे रही है जिसके द्वारा टाइगर इलेक्ट्रिक को केवल 4 घंटे में चार्ज किया जा सकता है। यह ट्रैक्टर अब बुकिंग के लिए उपलब्ध है और इसकी शुरुवाती कीमत Rs. 5.99 Lakhs (ex-showroom) है।
कंपनी की नवीनतम इनोवेशन पर अपने विचार साझा करते हुए सोनालीका समूह के कार्यकारी निर्देशक श्री रमन मित्तल ने कहा, “सोनालीका ट्रैक्टर इनोवेशन के मामले में हमेशा सबसे आगे रहा है और यूरोप तथा संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ साथ दुनिया भर में किसानों को सर्वश्रेष्ठ प्रौद्योगिकी प्रदान करता है। खेती में उत्पादन और लाभ बढ़ाने के लिए लगातार तकनीकी विकास प्रदान करने का हमारा वादा टाइगर इलेक्ट्रिक के साथ हर भारतीय किसान के लिए उपलब्ध है। टाइगर इलेक्ट्रिक के साथ हमने फार्म मशीनीकरण तकनीक में वैश्विक बेंचमार्क के साथ तालमेल रखते हुए विचार से वास्तविकता होने के बीच के अंतर को कम किया है । यह किसान को लाभ पहुंचाने की गारंटी के साथ सोनालीका के विश्व प्रसिद्ध टेक्नोलॉजी प्लेटफॉर्म पर बनाया गया है जिसके द्वारा एक एमिशन- फ्री, हरियाली से भरे भविष्य की ओर बढ़ना आसान होगा। किसान हितैषी टाइगर इलेक्ट्रिक ईंधन की लागत में कटौती करता है जबकि इसकी कार्यक्षमता डीजल ट्रैक्टर से अलग नहीं है | ग्राहक हितैषी ब्रांड के रूप में, हमने भारतीय किसानों को अनुकूलित समाधान प्रदान करने के लिए समय-समय पर लगातार नए उत्पाद विकसित किए हैं। टाइगर इलेक्ट्रिक में भी वही वैश्विक प्रौद्योगिकी का समावेश हैं जिसे यूरोपीय और अमेरिकी किसानों को पेश किया जाता है |
“जैसे-जैसे दुनिया पर्यावरण के अनुकूल पहलों की ओर बढ़ रही है, हर श्रेणी में इलेक्ट्रिक वाहनों को डीजल की अपेक्षा, प्राथमिकता, व उत्सुकता से देखा जा रहा है। सोनालीका का फील्ड रेडी टाइगर इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर हमारी प्रतिबद्धता है कि हम हरियाली के प्रति भारत की गति को तेज करें और 2030 तक इलेक्ट्रिक वाहन की शुरुवात के भारत सरकार के महत्वाकांक्षी कदम के अनुरूप रहें।“श्री मित्तल ने साझा किया | 
फील्ड रेडी टाइगर इलेक्ट्रिक कार्य क्षेत्र में अतिरिक्त टॉर्क के साथ अधिक ताकत प्रदान करता है जो किसानों को बिना थकावट के अधिकतम काम करने में मदद करेगा । टाइगर इलेक्ट्रिक किसानों के लिए बेहतर आराम का आश्वासन देता है क्योंकि इंजन से कोई गरम हवा नहीं निकलती है | ट्रैक्टर में कम पार्ट्स होने की वजह से इसमें कम कम्पन होती है तथा न्यूनतम रखरखाव लागत सुनिश्चित करता है। प्रचलित सोनालीका ट्रांसमिशन से लैस, फील्ड रेडी टाइगर इलेक्ट्रिक 24.93 किमी प्रति घंटे की अधिकतम गति और 2 टन ट्रॉली के साथ काम करते हुए 8 घंटे तक कार्य कर सकता है । 
टाइगर इलेक्ट्रिक का निर्माण सोनालीका के होशियारपुर, पंजाब में स्थित दुनिया के नंबर 1 वर्टिकली इंटीग्रेटेड ट्रैक्टर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट में किया गया है । यह प्लांट रोबोटिक्स और ऑटोमेशन द्वारा संचालित है और 2 मिनट के takt टाइम में एक नए ट्रैक्टर का निर्माण करता है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post